रमजान में संघर्ष विराम की वकालत करने वाली महबूबा आई निशाने पर

शिवसेना डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती द्वारा रमजान के दौरान कश्मीर में संघर्ष विराम की वकालत करने के खिलाफ यहां प्रदर्शन किया और उनका पुतला भी फूंका। शनिवार को महबूबा ने रमजान के दौरान जम्मू-कश्मीर में संघर्ष विराम की केन्द्र और आतंकवादियों से अपील की थी, ताकि ‘‘लोगों को कुछ राहत मिल सके।’’ 

जम्मू : शिवसेना डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती द्वारा रमजान के दौरान कश्मीर में संघर्ष विराम की वकालत करने के खिलाफ यहां प्रदर्शन किया और उनका पुतला भी फूंका। शनिवार को महबूबा ने रमजान के दौरान जम्मू-कश्मीर में संघर्ष विराम की केन्द्र और आतंकवादियों से अपील की थी, ताकि ‘‘लोगों को कुछ राहत मिल सके।’’

ये भी देखें : रमजान: जानिए क्या है जकात और कैसे होती है जरूरतमंद की मदद

एसएसडीएफ के अध्यक्ष अशोक गुप्ता ने यहां पत्रकारों से कहा, “संघर्ष विराम की कोई जरूरत नहीं और हम ऐसे किसी भी कदम के खिलाफ सड़कों पर हैं।”

उन्होंने दावा किया कि पिछले साल कश्मीर घाटी में एकतरफा संघर्ष विराम के दौरान दोगुने आतंकवादी हमले हुए थे जबकि 40 युवा भी आतंकी संगठनों में शामिल हो गए थे।

ये भी देखें : रमजान: जानिए क्या है जकात और कैसे होती है जरूरतमंद की मदद

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App