गृह मंत्रालय ने उठाया बड़ा कदम, लॉकडाउन के दौरान सभी…

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से निपटने के लिए लागू किए गए बंद (लॉकडाउन) के कारण  परेशान लोगों को राहत देने के लिए बड़ा फैसला लिया है।

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना वायरस (कोविड-19) से निपटने के लिए लागू किए गए बंद (लॉकडाउन) के कारण  परेशान लोगों को राहत देने के लिए बड़ा फैसला लिया है।

मंत्रालय ने लाॅकडाउन फंसे प्रवासी मजदूरों एवं बेघर लोगों को आश्रय मुहैया कराने के लिए राज्य आपदा राहत कोष (एसडीआरएफ) के इस्तेमाल और देश में सभी जरूरी एवं गैर-जरूरी वस्तुओं की ढुलाई की रविवार को अनुमति दे दी है।

यह भी पढ़ें…बड़ी पहल: यहां बनाया जा रहा सस्ता सैनिटाइजर, मिली एक्सपर्ट की हरी झंडी

गृह सचिव ने स्पष्ट किया कि प्रिंट मीडिया के लिए छूट के तहत अखबार आपूर्ति की व्यवस्था को भी इजाजत दी गयी है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को लिखे पत्र में भल्ला ने कहा कि दूध एकत्र करने और वितरण की पूरी आपूर्ति, जिसमें इसकी पैकिंग सामग्री भी शामिल है को लॉकडाउन अवधि के दौरान अनुमति दी गई है।

यह भी पढ़ें…इंसानियत के सामने कोरोना फेल: मुस्लिमों ने दिया अर्थी को कंधा, किया अंतिम संस्कार

उन्होंने कहा कि हाथ धोने, साबुन, कीटाणुनाशक, ओरल केयर आइटम, बैटरी सेल और चार्जर और स्वच्छता उत्पादों समेत किराने के सामानों के परिवहन की भी अनुमति है। गृह सचिव ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की स्थापना के तहत भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी की सेवाओं को भी शामिल किया है।