आर्टिकल 370: अब इस बड़े एजेंडे पर काम करेगी मोदी सरकार

आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाने के बाद अब केंद्र सरकार का अगला एजेंडा पाकिस्तान अधीकृत कश्मीर को भारत में शामिल करने का है।

Published by Shreya Published: September 11, 2019 | 9:56 am
आर्टिकल 370: अब इस बड़े एजेंडे पर काम करेगी मोदी सरकार

आर्टिकल 370: अब इस बड़े एजेंडे पर काम करेगी मोदी सरकार

नई दिल्ली: आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाने के बाद अब केंद्र सरकार का अगला एजेंडा पाकिस्तान अधीकृत कश्मीर को भारत में शामिल करने का है। केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने कहा कि अब हमारा अगला एजेंडा पाक अधीकृत कश्मीर को भारत के अभिन्न अंगों में शामिल करना है। जितेंद्र सिंह ने ऊधमपुर कठुआ लोकसभा सीट से जीत हासिल की है। उन्होंने कहा कि ये केवल मेरी या मेरी पार्टी की प्रतिबद्धता नहीं है बल्कि ये 1994 में पी. वी. नरसिंह राव के नेतृत्व वाली तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा सर्वसम्मति से पारित संकल्प है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के अधिकतम प्रावधान को खत्म करने के बाद पाकिस्तान की ओर से किए जाने वाले दुष्प्रचार पर प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्यमंत्री जितेंद्र ने कहा कि, कुछ देश भारत के फैसले से सहमत नहीं थे, अब वे भारत से सहमत हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर में मिलने वाले फायदों को लेकर वहां की जनता खुश है।

यह भी पढ़ें: महंगाई की मार झेल रहा पाकिस्तान : पेट्रोल से महंगा हुआ दूध, चेक करें रेट

ये सोचना छोड़ दें कि आप कुछ भी करके बच जायेंगे-

उन्होंने आगे कहते हुए कहा कि कश्मीर बंद नहीं हुआ है और न ही वहां किसी तरह के कर्फ्यू के साये में है, बल्कि वहां पर कुछ पाबदियां लगाई गई हैं। उन्होंने विरोधियों को चेतावनी देते हुए कहा कि उन लोगों अपनी मानसिकता बदलना होगा कि वो कुछ भी करके बच जायेंगे। सिंह ने कश्मीर बंद और कर्फ्यू को लेकर कहा कि कशमीर बंद नहीं हा और न ही  कर्फ्यू लगा हुआ है। अगर ऐसा होता तो उन्हें कर्फ्य पास के साथ बाहर निकलना होता।

सरकार पाबंदियों को हटाने को लेकर इच्छुक-

सिंह ने कहा कि वहां पर धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं। घाटी में दोबारा इंटरनेट सेवाओं को लेकर सिंह ने कहा कि, हम जल्द ही इसे बहाल करना चाहते हैं और इसके लिए एक कोशिश की गई थी पर सोशल मीडिया पर फर्जी अफवाहें फैलाई जाने लगीं। इस वजह से दोबारा इस फैसले की समीक्षा करनी पड़ी। सिंह ने कहा कि सरकार भी इन पाबंदियों को हटाने और इंटरनेट सेवाओं को शुरु करने के लिए इच्छुक हैं।

आम लोगों पर आतंकी हमले किये जाने को लेकर उन्होंने कहा कि इसमें पाकिस्तान का हाथ है। उन्होंने चेताते हुए कहा कि उन्हें ये मानसिकता बहलनी होगी कि वो कुछ भी करके बच सकते हैं। अब आप लोग बचकर नहीं निकल सकते हैं, राष्ट्र विरोधी गतिविधियों के लिए आपको भारी कीमत चुकानी पड़ेगी।

यह भी पढ़ें: ब्लोच नेताओं ने UNHRC में पाकिस्तान के बयान की निंदा की

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App