Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बेटी का प्यार पिता को पड़ा महंगा, मौत के बाद नहीं मिल रही थी दो गज जमीन

मध्य प्रदेश के श्योपुर में  कुछ समय पहले घटी थी। यहां के कब्रिस्तान में एक बुजुर्ग के शव को दफनाने से रोकने का मामला सामने आया है। घटना बीते 6 सितंबर की है।

Suman

SumanBy Suman

Published on 8 Sep 2020 5:33 AM GMT

बेटी का प्यार पिता को पड़ा महंगा, मौत के बाद नहीं मिल रही थी दो गज जमीन
X
नाराज समाज के लोगों ने उनके पिता का शव कब्रिस्तान में दफनाने से रोक दिया। बाद में पुलिस की मदद से शव को सुपुर्द-ए-खाक किया गया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

श्योपुर कहते हैं प्यार ना जात देखता है ना मजहब और ही कुछ प्यार तो बस किसी से भी हो जाता है। कुछ ऐसी घटना मध्य प्रदेश के श्योपुर में कुछ समय पहले घटी थी। यहां के कब्रिस्तान में एक बुजुर्ग के शव को दफनाने से रोकने का मामला सामने आया है। घटना बीते 6 सितंबर की है।

बेटी के गुनाहों की सजा पिता को

बुजुर्ग की बेटी का आरोप है कि उसने एक हिंदू लड़के से शादी कर वही धर्म अपना लिया। इससे नाराज समाज के लोगों ने उनके पिता का शव कब्रिस्तान में दफनाने से रोक दिया। बाद में पुलिस की मदद से शव को सुपुर्द-ए-खाक किया गया।

यह पढ़ें..एक्टर की हार्ट अटैक से मौत: फिल्म इंडस्ट्री को लगा झटका, शोक में हर कोई

ये पूरा मामला

जिले के सलापुरा स्थित आबू सैयद वाले कब्रिस्तान, जहां एक बुजुर्ग के शव को दफनाने को लेकर विवाद हुआ था। मृतक की बेटी रवीना का कहना है कि उसने हिन्दू समाज के युवक से शादी करके उन्‍होंने अपने पति का धर्म अपना लिया था।

shadi सोशल मीडिया से

पुलिस ने नहीं की मदद

रविवार को जब सलापुरा कब्रिस्तान के पास पुराने बने मकानों में रह रहे रवीना के पिता ईदा खान की मौत हो गई। मुस्लिम समाज के कुछ लोगों ने उनके शव को कब्रिस्तान में दफन करने से रोक दिया।

रवीना ने समाज के लोगों से निवेदन किया, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। इसके बाद उन्होंने स्थानीय पुलिस से मदद मांगी, लेकिन कोई मदद नहीं की। फिर चम्बल आईजी को फोन करके मदद मांगने के बाद स्थानीय पुलिस मदद के लिए मौके पर पहुंची। और पिता का अंतिम संस्कार हुआ।

समाज के लोग उनके परिवार से चिढ़े

बता दें कि इस कब्रिस्तान की जमीन पर वक्फ कमेटी और ईदा खान के विरुद्ध केस चल रहा है। कब्रिस्तान की जमीन पर मकान बनाने को लेकर हुए विवाद में करीब 30 लोगों पर एफआईआर भी ईदा खान की बेटी रवीना शर्मा (अब) की रिपोर्ट पर हुई थी। रवीना का आरोप है उन्‍होंने मुस्लिम धर्म त्याग कर हिंदू धर्म अपना लिया है। इसी बात को लेकर समाज के लोग उनके परिवार से चिढ़े हैं।

यह पढ़ें...राफेल को इनसे बड़ा खतरा: मीटिंग में अहम फैसला, अब ऐसी होगी सुरक्षा

इस मामले में पुलिस ने माना कि मृतक के शव को दफनाने से रोका गया था, लेकिन उन्होंने कहा कि बेटी का दूसरे धर्म में शादी को लेकर विवाद जैसी कोई बात सामने नहीं है।पुलिस के हस्तक्षेप के बाद शव को सुपुर्द ए खाक किया गया, शिकायतों पर जांच की जा रही है।

Suman

Suman

Next Story