×

अर्ध-नग्न अवस्था में कराई नाबालिगों की परेड, पीठ पर लाठियां बरसाती रही पुलिस

दरअसल नागपुर में 23 सितंबर को पांच नाबालिग तलवार और अन्य हथियारों को लेकर जरीपटका के एक बार में गए और वहां पर ड्रिक किया। इसी बीच बार के मालिक संजय पाटिल और वेटर्स के साथ किसी बात को लेकर नाबालिगों की कहासुनी हो गई।

Newstrack
Updated on: 10 Oct 2020 8:06 AM GMT
अर्ध-नग्न अवस्था में कराई नाबालिगों की परेड, पीठ पर लाठियां बरसाती रही पुलिस
X
सभी पांचों लड़कों को पुलिस थाने लाने से पहले अर्ध-नग्न अवस्था में शहर के भीड़-भाड़ वाले इलाके में घुमाया गया। इस दौरान रोड पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नागपुर: नागपुर में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। यहां पर नाबालिगों के एक समूह की अर्ध-नग्न अवस्था में परेड कराई गई। बताया गया कि ये सभी नाबालिग आपराधिक रिकॉर्ड वाले हैं।

नागपुर शहर के अंदर इस तरह से अर्ध-नग्न अवस्था में नाबालिगों की परेड कराए जाने के बाद इस पूरे मामले ने अब तूल पकड़ लिया है।

पुलिस द्वारा इस मामले में परेड कराने वाली पुलिस टीम के खिलाफ 'किशोर न्याय अधिनियम' के तहत मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

ये भी पढ़ेंः कोरोना पर चीन का बड़ा खुलासा: पहली बार बताई ये बात, जानकर हो जाएंगे हैरान

शुरूआती जांच में ये बात निकलकर सामने आई है कि वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक खुशाल तिजारे, उप-निरीक्षक विजय धूमल और उत्तरी नागपुर में जरीपटका पुलिस थाने के पांच हवलदारों ने नाबालिगों को अर्ध-नग्न अवस्था में शहर की एक व्यस्त सड़क पर परेड करवाई थी और उन्हें बुरी तरह से मारा-पीटा भी था।

पुलिस को ऐसा करते सड़क पर तमाम लोगों ने देखा था। जिसके बाद से नाबालिगों की पहचान सार्वजनिक हो गई थी। नाबालिगों की पहचान उजागर करने की वजह ए 'किशोर न्याय अधिनियम' की संबंधित धाराओं के तहत अब पुलिस के तमाम अफसरों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

Nagpur Police पुलिस की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें- अब ये शिक्षा मंत्री हुए कोरोना संक्रमितः अस्पताल में एडमिट हैं जगरनाथ महतो

क्या है ये पूरा मामला

दरअसल नागपुर में 23 सितंबर को पांच नाबालिग तलवार और अन्य हथियारों को लेकर जरीपटका के एक बार में गए और वहां पर ड्रिक किया। इसी बीच बार के मालिक संजय पाटिल और वेटर्स के साथ किसी बात को लेकर नाबालिगों की कहासुनी हो गई।

नाबालिगों पर पाटिल के जाने के बाद वहां से जबरन पैसे चुराने का भी आरोप है। बताया जा रहा है कि यह पूरा वाकया बार में लगे सीसीटीवी में रिकार्ड हो गया।

जिसके बाद पाटिल द्वारा दर्ज की गई शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अगले दिन नागपुर जिले के पाटनवांगी से आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

बताया जा रहा है सभी पांचों लड़कों को पुलिस थाने लाने से पहले अर्ध-नग्न अवस्था में शहर के भीड़-भाड़ वाले इलाके में घुमाया गया। इस दौरान रोड पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। वहां खड़े कुछ लोगों ने अपने मोबाइल फोन से इस घटना का वीडियो बना लिया। उसके बाद वायरल कर दिया।

Mobile Photo मोबाइल से तस्वीर खींचते हुए(फोटो: सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें- अक्षय की लक्ष्मीबॉम्ब : बायकॉट के डर से हटाया लाइक्स-डिस्लाइक, उठ रहे सवाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें – Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story