Top

भारत की बड़ी जीत: NAM की बैठक में कश्मीर मसले पर PAK की कर दी बोलती बंद

वी मुरलीधरन ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि गुट निरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) के सदस्यों को उन मुद्दों को उठाने से पहले सोचना चाहिए जो एजेंडे में नहीं हैं। एनएएम कभी किसी देश द्वारा दूसरे देश की क्षेत्रीय अखंडता को कमजोर करने के प्रयासों का मंच ना था और ना ही हो सकता है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Oct 2020 5:16 AM GMT

भारत की बड़ी जीत: NAM की बैठक में कश्मीर मसले पर PAK की कर दी बोलती बंद
X
भारत सरकार का कहना है कि रणनीतिक रूप से गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र भारत के केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर का हिस्सा है, पाकिस्तान ने कब्जा किया हुआ है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत ने एक बार फिर से पूरी दुनिया के सामने पाकिस्तान को आतकंवाद के मुद्दे पर बेनकाब कर दिया है। शुक्रवार को गुट निरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) की मंत्रिस्तरीय बैठक में पकिस्तान को फटकार लगते हुए कहा कि गुट निरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) कभी किसी देश द्वारा दूसरे देश की क्षेत्रीय अखंडता को कमजोर करने के प्रयासों का मंच ना था और ना ही भविष्य में कभी भी हो सकता है।

विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने कहा कि हम अच्छाई के लिए शक्ति बन सकते हैं। भारत की तरफ से एनएएम की मंत्रिस्तरीय बैठक में मंच पर कश्मीर के मुद्दे को उठाने के लिए विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने पाकिस्तान पर जोरदार हमला बोला।

उन्होंने पाकिस्तान को साफ संदेश दिया कि कश्मीर उनका आतंरिक मसला है इसलिए दूसरे देश को इस पर बिल्कुल भी नहीं बोलना चाहिए। मालूम हो कि पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इससे पहले अपने संबोधन में कश्मीर के मुद्दे को उठाया था।

Imran Khan पकिस्तान के पीएम इमरान खान की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ेंः कोरोना पर चीन का बड़ा खुलासा: पहली बार बताई ये बात, जानकर हो जाएंगे हैरान

वी मुरलीधरन ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि गुट निरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) के सदस्यों को उन मुद्दों को उठाने से पहले सोचना चाहिए जो एजेंडे में नहीं हैं।

एनएएम कभी किसी देश द्वारा दूसरे देश की क्षेत्रीय अखंडता को कमजोर करने के प्रयासों का मंच ना था और ना ही हो सकता है।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए ये भी कहा कि जब गुट निरपेक्ष आंदोलन (एनएएम) के मेम्बर्स राष्ट्र एक साथ खड़े होते हैं और एक आवाज में बोलते हैं, तो हम वैश्विक परिणामों पर निर्णायक असर डाल सकते हैं और डालते हैं।

ये भी पढ़ें- अब ये शिक्षा मंत्री हुए कोरोना संक्रमितः अस्पताल में एडमिट हैं जगरनाथ महतो

आखिर क्या विदेश राज्य मंत्री ने

वी मुरलीधरन ने मंच से पाकिस्तान की तरफ इशारा करते हुए कहा कि अगर हम अपने आंदोलन को ऐसे मंच तक बांध कर रखते हैं, जहां द्विपक्षीय शिकायतें या साथी सदस्य राष्ट्रों को शर्मिंदा करने के लिए इस तरह की हरकत की जाती है तो हम जल्द ही कमजोर और तर्कहीन हो जाएंगे। जिसका नुकसान ये होगा कि आगे चलकर हमारी वैश्विक निर्णय प्रक्रिया में कोई हिस्सेदारी ही नहीं बची रही पायेगी।

v Muralidharan भारत के विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन की फोटो(सोशल मीडिया)

पाकिस्तान ने चीन के टिकटॉक एप पर रोक लगा दी

दरअसल, पाकिस्तान ने चीन के टिकटॉक एप पर रोक लगा दी है। पाकिस्तान की सरकार के इस फैसले के बीच उनका तर्क हैं कि वे टिकटॉक को देश की संस्कृति के लिए खतरा मानते हैं।

पाकिस्तान की ओर से टिकटॉक पर प्रतिबंध लगाने का एलान करते हुए अपने बयान में कहा गया कि टिकटॉक से अश्लीलता फैल रही है।

ये भी पढ़ें- अक्षय की लक्ष्मीबॉम्ब : बायकॉट के डर से हटाया लाइक्स-डिस्लाइक, उठ रहे सवाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App

Newstrack

Newstrack

Next Story