सऊदी अरब ने भारत के साथ किया ये खास समझौता, रोने लगा पाकिस्तान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सऊदी अरब के दो दिवसीय दौरे से भारत वापस लौट आए हैं। पीएम मोदी के दौरे के दौरान भारत और सऊदी अरब ने तेल और गैस, रक्षा एवं नागर विमानन समेत अलग-अलग प्रमुख क्षेत्रों में कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सऊदी अरब के दो दिवसीय दौरे से भारत वापस लौट आए हैं। पीएम मोदी के दौरे के दौरान भारत और सऊदी अरब ने तेल और गैस, रक्षा एवं नागर विमानन समेत अलग-अलग प्रमुख क्षेत्रों में कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

इस दौरान पीएम मोदी ने रियाद में फ्यूचर इन्वेस्टमेंट इनिशियेटिव (FII) को संबोधित भी किया। मोदी ने सऊदी अरब के शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज से भी मुलाकात की और दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने को लेकर विचार साझा किए। पीएम मोदी का यह दौरा ऐतिहासिक रहा है।

यह भी पढ़ें…कश्मीर में खूनी खेल! आतंकियों ने 5 मजदूरों को लाइन में खड़ा कर गोलियों से भूना

भारत और सऊदी अरब मिलकर एक काउंसिल बनाएंगे। यह काउंसिल दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेधारी पर काम करेगा। सऊदी अरब चौथा देश है, जिसके साथ भारत ने यह समझौता किया है। महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर समन्वय और रणनीतिक साझेदारी के लिए बनी इस काउंसिल की अध्यक्षता भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सऊदी अरब के किंग सलमान करेंगे।

यह भी पढ़ें…बंगाल के मजदूरों की हत्या: ममता ने जताया दुख, पीड़ितों से मिलेंगे अधीर रंजन

इसके माध्यम से सरकार टू सरकार मैकेनिज्म बनाया जाएगा, जो दोनों देशों के बीच विकास, रणनीतिक समझौतों को आगे बढ़ाने में मदद करेगा। सऊदी अरब से पहले भारत ने यह समझौता तीन और देशों के साथ किया है, जिसमें जापान, रूस और जापान शामिल हैं। बता दें कि सऊदी अरब और भारत के बीच यह समझौता होना काफी अहम है। माना जाता है कि सऊदी और पाकिस्तान के रिश्ते काफी गहरे हैं, लेकिन भारत के साथ इस समझौते से उसे झटका लगेगा।

यह भी पढ़ें…FII फोरम में पीएम मोदी बोले- भारत में इन्फ्रास्ट्रक्चर में निवेश के लिए अपार संभावनाएं

इसके अलावा दोनों देशों के बीच एनर्जी सिक्युरिटी, स्ट्रेटेजिक पेट्रोलियम रिजर्व को लेकर समझौते हुए। ISPRL और सऊदी अरामको के बीच 2.5 मिलियन टन पेड्यूर स्टोरेज रखने का फैसला किया गया है।

सऊदी अरब और भारत के बीच 12 बड़े समझौते हुए हैं

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App