लॉकडाउन में बेरोजगार हुए लोगों के लिए यहां नौकरी, सरकार ने दिया मौका

लॉकडाउन की वजह से कंपनियों ने कर्मचारियों की छटनी कर दी। बड़ी तादाद में लोग बेरोजगार हो गए। ऐसे लोगों को श्रम और रोजगार मंत्रालय मौका दे रहा है।

लखनऊ: लॉकडाउन के कारण अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा। सब कुछ बंद होने से मंदी का दौर आ गया और कई कर्मचारियों की नौकरियां तक चली। ऐसे में नई नौकरी की तलाश में जुटे कर्मचारियों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। सरकार ने इसका भी तोड़ निकाल लिया है। लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हुए लोगों के लिए श्रम और रोजगार मंत्रालय ऑनलाइन जॉब मेला लगाने की तैयारी में है।

लॉकडाउन की वजह से बड़ी तादाद में कर्मचारी हुए बेरोजगार

दरअसल, कोरोना वायरस की रोकथाम को लेकर भारत में 25 मार्च को लॉकडाउन का एलान कर दिया गया। कई कंपनियां बंद हो गयी, तो कई काम ठप्प होने से घाटे में आ गयी। इस घाटे को पूरा करने के लिए कंपनियों ने कर्मचारियों की छटनी कर दी। बड़ी तादाद में कर्मचारी बेरोजगार हो गए।

श्रम और रोजगार मंत्रालय ने की नौकरी दिलाने की व्यवस्था

इसी समस्या के समाधान के लिए श्रम और रोजगार मंत्रालय के नेशनल करियर सर्विस प्रोजेक्ट (NCS) के तहत ऑनलाइन जॉब मेला लगाए जाने की योजना है। बता दें कि NCS के तहत अब तक कुल मिलाकर 73 लाख लोगों को जॉब दी जा चुकी है।

ये भी पढ़ेंःलाॅकडाउन में इस सेक्टर को लगा तगड़ा झटका, उत्पादन में आई भारी गिरावट

नेशनल करियर सर्विस प्रोजेक्ट (NCS) के तहत ऑनलाइन जॉब मेला

मंत्रालय इसके लिए TCS कंपनी के साथ मिलकर ऑनलाइन करियर स्किल ट्रेनिंग की शुरुआत करने जा रहा है। मंत्रालय का कहना है कि ऐसे कई लोग हैं, जिनके टैलेंट को एक सही दिशा देने की जरूरत है, ताकि वह अपनी स्किल के मुताबिक अच्छी जॉब के लायक बन सकें।

जॉब सीकर्स को दी जाएगी ट्रेनिंग

फिलहाल अभी जरूरत के हिसाब से लोगों को ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें पर्सनालिटी डेवलपमेंट, कॉरपोरेट एटिकेट्स, प्रेजेंटेशन स्किल्स की ट्रेनिंग होगी। वहीं जॉब पाने की इच्छा रखने वालों की वीडियो प्रोफाइल भी बनाई जायेगी। इसके जरिये कंपनियां ऑनलाइन ही जॉब सीकर की क्वालिटी देख सकेंगी।

ये भी पढ़ेंःइस राज्य में लॉकडाउन 5.0! सीएम ने दिए संकेत, होंगे ये नियम

 ट्रेनिंग से लेकर वीडियो प्रोफाइल बनाने में नहीं पड़ेगा कोई चार्ज

ख़ास बात ये हैं कि ये भी काम नेशनल करियर सर्विस के तहत मुफ्त में किये जाएंगे। जॉब सीकर्स को ट्रेनिंग से लेकर वीडियो प्रोफाइल बनाने तक किसी काम के लिए कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा। बस जॉब की चाह रखने वालों को NCS के पोर्टल पर जाकर लॉगिन करना होगा। पूरी जानकार भी www.ncs.gov.in पोर्टल पर उपलब्ध है।

13 करोड़ से ज्यादा लोगों की नौकरी खतरे में

गौरतलब है कि हाल ही में एक सर्वे हुआ था, जिसके मुताबिक भारत में करीब 13 करोड़ से ज्यादा लोगों की नौकरी खतरे में हैं। 13.5 करोड़ लोगों की नौकरी लॉकडाउन के कारण जा सकती है और 17.4 करोड़ लोग बेरोजगार हो सकते है। इसके कारण देश में बेरोजगारी 7.6 प्रतिशत से बढ़कर 35 फीसदी हो सकती है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।