खाताधारकों को तोहफा: एकमुश्‍त मिल सकता है 8.5% इंटरेस्ट का भुगतान, तुरंत चेक करें

कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन यानी कि ईपीएफओ वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ईपीएफ पर तय 8.5 फीसदी ब्याज का एकमुश्‍त भुगतान करने की हर कोशिश करेगा।

PF खाता धारक अब एक मुश्त कर सकेंगे भुगतान (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने पीएफ खाता धारकों को खुशखबरी दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन यानी कि ईपीएफओ वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ईपीएफ पर तय 8.5 फीसदी ब्याज का एकमुश्‍त भुगतान करने की हर कोशिश करेगा। उसे अपने निवेश पर वित्तीय बाजारों से बेहतर रिटर्न मिलने की अपेक्षा है। अब ये खबर पीएफ खाताधारकों के लिए किसी खुशखबरी से कम नहीं है।

सीबीटी ने किया दो किस्‍तों में भुगतान का फैसला

एक रिपोर्ट के मुताबिक ईपीएफओ के निर्णय लेने वाले सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (सीबीटी) ने दो किस्‍तों में ब्‍याज का भुगतान करने का फैसला किया है। उसने निर्णय किया था कि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए ईपीएफ पर 8.50 फीसदी की तय दर में से अभी 8.15 फीसदी ब्याज का भुगतान होगा। बाकी 0.35 फीसदी का भुगतान दिसंबर में होगा।

ये भी पढ़ें-   IAS अनुराग मौत मामला: CBI ने नहीं बदला जांच अधिकारी, पीड़ित ने किया एतराज

EPFO
PF खाता धारक अब एक मुश्त कर सकेंगे भुगतान (फाइल फोटो)

इस फैसले का उसके करीब छह करोड़ सब्‍सक्राइबरों पर असर पड़ेगा। सदस्‍यों को भरोसा देते हुए ईपीएफओ के सूत्रों ने कहा कि किस्‍तों में भुगतान करना केवल एक सुझाव है। एक बार वित्‍त मंत्रालय इस मसले पर अपने विचार दे तो हम एक साथ ब्‍याज का भुगतान करने की पूरी कोशिश करेंगे। शायद इसे किस्‍तों में न दिया जाए।

मार्च में हुई बैठक में बोर्ड ने किया था 8.5% की दर से ब्याज का फैसला

CBT
PF खाता धारक अब एक मुश्त कर सकेंगे भुगतान (फाइल फोटो)

आपको बता दें कि ब्याज भुगतान का यह मुद्दा ट्रस्टी बोर्ड की बुधवार की बैठक में सूचीबद्ध नहीं था। लेकिन, कुछ ट्रस्टियों ने पीएफ खातों में ब्याज अदायगी में देरी का मुद्दा उठाया। इसके बाद इस पर चर्चा हुई। ट्रस्टी बोर्ड के अध्यक्ष श्रम मंत्री संतोष गंगवार हैं।

ये भी पढ़ें-   हिल उठा शमशान घाट: लोगों के कांधे पर थी लाश, तभी अचानक मची भगदड़

बोर्ड ने इस साल मार्च में हुई बैठक में ईपीएफ पर 2019-20 के लिए 8.5 फीसदी की दर से ब्याज देने का फैसला किया है। वित्त मंत्रालय पिछले वित्त वर्ष के लिए पीएफ पर 8.5 फीसदी की दर से ब्याज देने के फैसले पर अपनी सहमति पहले ही जता चुका है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App