×

फांसी टलने पर निर्भया के परिवार ने केजरीवाल को बताया जिम्मेदार, रोते हुए मां बोली...

निर्भया गैंगरेप केस के दोषियों की फांसी एक बार फिर टल गई है। दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने कुछ दोषियों के पास कानूनी विकल्प बचे होने के आधार पर शुक्रवार को डेथ वॉरंट पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 31 Jan 2020 3:41 PM GMT

फांसी टलने पर निर्भया के परिवार ने केजरीवाल को बताया जिम्मेदार, रोते हुए मां बोली...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप केस के दोषियों की फांसी एक बार फिर टल गई है। दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने कुछ दोषियों के पास कानूनी विकल्प बचे होने के आधार पर शुक्रवार को डेथ वॉरंट पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी। एक बार फिर गुनहगार दरिंदों की फांसी टलने से निर्भया की मां आशा देवी के सब्र का बांध टूट गया।

फैसले के बाद उन्होंने कोर्ट के बाहर रोते हुए कहा कि 7 साल पहले उनकी बेटी के साथ अपराध हुआ और सरकार बार-बार उन्हें मुजरिमों के सामने झुका रही है। उन्होंने कहा कि उनकी लड़ाई जारी रहेगी।

निर्भया की मां ने कहा कि मुजरिमों के वकील ने उन्हें पहले ही चुनौती दी थी कि फांसी अनंतकाल तक टलेगी। उन्होंने कहा कि मुजरिमों के वकील एपी सिंह ने मुझे चैलेंज किया था कि फांसी अनंतकाल तक नहीं होगी। 7 साल पहले मेरी बच्ची के साथ अपराध हुआ था और सरकार बार-बार मुजरिमों के सामने मुझे झुका रही है।

यह भी पढ़ें...तारीख पर तारीख आखिर कब तक! निर्भया के दोषियों की फांसी टली

उन्होंने कहा कि मैं सरकार से, कोर्ट से, न्याय व्यवस्था से यही कहना चाहती हूं कि आज इस कानून व्यवस्था की कमी की वजह से एक मुजरिम का वकील मुझे चैलेंज करके गया है कि अनंतकाल तक फांसी नहीं होगी। ...जो मुजरिम चाहते थे, वह हो गया, फांसी टल गई।

यह भी पढ़ें...बजट सत्र 2020: मोदी सरकार 2.0 का इकोनॉमिक सर्वे पेश

आशा देवी ने कहा कि वह लड़ेंगी और दोषियों को फांसी देना ही होगा। उन्होंने कहा कि मैं लड़ूंगी... सरकार को उनको फांसी देनी होगी नहीं तो पूरे समाज को सुप्रीम कोर्ट से लेकर लोवर कोर्ट तक को सरेंडर करना होगा कि फांसी की सजा को सिर्फ गुमराह करने के लिए दिया गया था, लोगों को शांत करने के लिए दिया था

फांसी टलने से विचलित निर्भया की मां ने यह भी कहा कि उन्हें कानून पर भरोसा तो है, लेकिन जैसा हो रहा है उससे अपराधियों को हौसले बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा ही होना है तो नियम-कानून की किताबों को आग लगा देनी चाहिए।

यह भी पढ़ें...चुनाव आयोग ने बढ़ाया दिल्ली पुलिस कमिश्नर पटनायक का कार्यकाल, जानें क्यों?

निर्भया के पिता ने कहा कि कोर्ट ने मामले को टाल दिया, पता नहीं कितने दिन मामला टला रहेगा, इसका मतलब केजरीवाल ने ये काम किया है, केजरीवाल के अधिकार में जेल अथॉरिटी है, वहीं से सब कुछ रुका हुआ है। पूरा सिस्टम केजरीवाल के हाथ में है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story