नहीं थम रहा CAA के खिलाफ बवाल: शाहीनबाग के बाद अब यहां विरोध

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जाफराबाद में शाहीनबाग जैसा ही एक प्रदर्शन शुरु हो गया है।

Published by Shreya Published: February 23, 2020 | 9:21 am
नहीं थम रहा CAA के खिलाफ बवाल: शाहीनबाग के बाद अब यहां विरोध

Anti CAA Protest

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जाफराबाद में शाहीनबाग जैसा ही एक प्रदर्शन शुरु हो गया है। शनिवार आधी रात से दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास बड़ी तादाद में मुस्लिम समुदाय की महिलाएं इकट्ठा हुईं और CAA-NRC के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। जिस वजह से एक मुख्य सड़क बंद हो गई।

जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास महिलाएं कर रहीं प्रदर्शन

रिपोर्ट के मुताबिक, प्रदर्शनकारी महिलाएं आधी रात सीलमपुर रेड लाइट से जाफराबाद मेट्रो स्टेशन की ओर बढ़ीं और मेट्रो स्टेशन के नीचे बैठ कर प्रदर्शन करने लगीं। प्रदर्शन में ज्यादातर महिलाएं बुर्का पहन शामिल हुईं। इन महिलाओं ने कैंडल जलाया और CAA के खिलाफ नारेबाजी की। हालांकि रात जैसे-जैसे बढ़ती गई, वैसे-वैसे यहां पर भीड़ भी कम हो गई और पुलिस की संख्या भी कम हो गई।

महिलाओं की क्या है मांग?

इस महिलाओं ने तिरंगा लेकर ‘आजादी’ के नारे लगाए और कहा कि वे तब तक वहां से नहीं हटेंगी, जब तक केंद्र सरकार CAA को रद्द नहीं कर देती। उन्होंने अपनी बांह पर एक नीली पट्टी बांधी और ‘जय भीम’ के नारे भी लगाए। स्थिति के मद्देनजर इलाके में महिला पुलिसकर्मियों के साथ-साथ भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया है।

प्रदर्शन के चलते सड़क हुई ब्लॉक

प्रदर्शनकारी महिलाओं ने सीलमपुर को मौजपुर और यमुना विहार से जोड़ने वाली सड़क नंबर 66 को ब्लॉक कर दिया। अचानक हुए विरोध प्रदर्शन के चलते यहां पर यातायात बाधित हो गया। वहीं सड़क को खाली कराने के लिए पुलिस  प्रदर्शनकारी महिलाओं से बात करने की कोशिश में जुटी है।

सड़क को खाली करने का किया जा रहा प्रयास

बता दें कि जाफराबाद में ऐसे समय में ये महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं, जब सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त किए गए वार्ताकार लगातार शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों द्वारा ब्लॉक किए गए एक सड़क को खाली करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रदर्शनकारी दक्षिण दिल्ली और नोएडा को जोड़ने वाली सड़क को अवरुद्ध करते हुए लगातार दो महीने से शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: अमूल्या की हत्या पर मिलेंगे 10 लाख: पाकिस्तान समर्थन पड़ा भारी, हुआ ये ऐलान

चंद्रशेखर आजाद ने आज बुलाया ‘भारत बंद’

आपको बता दें कि भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA), राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC), NPR और सरकारी नौकरियों में प्रमोशन में आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ आज यानि 23 फरवरी को ‘भारत बंद’ बुलाया है। वहीं चंद्रशेखर आजाद के भारत बंद को बिहार में महागठबंधन का समर्थन मिला है। साथ ही हिंदुस्ताानी आवाम मोर्चा (हम) के नेताओं द्वारा भारत बंद के दौरान बिहार के जिलों में सड़कों पर उतरने की बात कही गई है।

चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट करते हुए लिखा कि…

चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ऐतिहासिक भारत बंद की शुरुआत जाफराबाद सीलमपुर दिल्ली से कर दी गई है दिल्ली के साथी जाफराबाद पहुंचे। आज संवैधानिक दायरे में रहते हुए पूरा भारत बंद किया जाएगा। भाजपा सरकार को बहुजनों की ताकत का एहसास करवाया जाएगा। 

उन्होंने एक और ट्वीट में लिखा कि, सभी साथी 23 फरवरी को भारत बंद की तैयारी करें। हम 16 फरवरी को मंडी हाउस से पार्लियामेंट तक मार्च निकालकर सरकार को बता देंगे कि आरक्षण से किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ बर्दाश्त नही की जाएगी। मैं सभी राजनीतिक पार्टियों से अपील करता हूँ कि 23 फरवरी के भारत बंद में सहयोग करें। जय भीम

आजाद ने कहा कि, मेरी पूरे बहुजन समाज से अपील है कि नाइंसाफी के खिलाफ आवाज उठाना हमारा मौलिक अधिकार है इसलिए शांतिपूर्ण ढंग से भारत बंद करवाएं। किसी भी अप्रिय घटना से बचें। भाजपा के लोग आपको उकसाने की कोशिश करेंगे किसी भी प्रकार के उकसावे में न आएं। जय भीम #23फरवरी_भारत_बंद

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

यह भी पढ़ें: जानिए किस दिन कौन सा समय रहता है राहुकाल, लोग क्यों नहीं करते इसमें शुभ काम