Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

तिहाड़ में बेहाल चिदंबरम, अब बदल जाएगा साहब के जीभ का स्वाद

बता दें कि अन्य कैदियों की तरह चिदंबरम जेल के पुस्तकालय का इस्तेमाल कर सकेंगे और एक निश्चित समय तक टीवी देख सकते हैं. आवश्यक मेडिकल जांच के बाद चिदंबरम को जेल नंबर सात में रखा गया है

Harsh Pandey

Harsh PandeyBy Harsh Pandey

Published on 6 Sep 2019 3:40 AM GMT

तिहाड़ में बेहाल चिदंबरम, अब बदल जाएगा साहब के जीभ का स्वाद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: INX MEDIA CASE में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को तिहाड़ जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि कल जेल में उन्हें खाने में दाल, रोटी और सब्जी दी गई। चिदंबरम को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में 19 सितम्बर तक जेल में रहना होगा।

ऐसे में पी. चिदंबरम की मश्कीलें कम नहीं होती दिखाई दे रही है। हालांकि कोर्ट ने उन्हें जेल में अपनी दवा ले जाने की अनुमति भी दे दी है।

चिदंबरम रहेंगे जेल नंबर 7 में...

बता दें कि अन्य कैदियों की तरह चिदंबरम भी जेल की लाइब्रेरी का इस्तेमाल कर सकेंगे और एक निश्चित समय तक टीवी देख सकते हैं। बताया जा रहा है कि मेडिकल परिक्षण के बाद चिदंबरम को जेल नंबर सात में रखा गया है। आम तौर पर ED के मामलों में आरोपियों को इसी जेल में रखा जाता है।

उल्लेखनीय है कि पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को भी पिछले साल इसी मामले में उसी कोठरी में 12 दिनों तक रखा गया था।

यह भी पढ़ें: मारी गई पाकिस्तानी सेना! इमरान को आज नहीं आएगी नींद

खास बात यह है कि मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी भी अगस्तावेस्टलैंड और बैंक धोखाधड़ी मामले में इसी जेल में बंद हैं।जेल के एक अधिकारी के मुताबिक कैदियों को प्रतिदिन रात का खाना सात से आठ बजे के बीच दिया जाता है लेकिन यह उन लोगों के लिए अलग रखा जाता है जो अदालती प्रक्रियाओं के कारण देर से पहुंचते हैं। सामान्यतया रात के खाने में रोटियां, दाल, सब्जी और चावल होता है।

साथ ही उन्होंने बताया कि चिदंबरम को कोठरी में रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक रखा जाएगा। सुबह सात से आठ बजे के बीच नाश्ता दिया जाएगा। व्रे आरो मशीन से पानी पी सकते हैं या कैंटीन से पानी की बोतल खरीद सकते हैं।

चिदंबरम अलग कोठरी में...

यह भी पढ़ें: 250 ग्राम का परमाणु बम! पाकिस्तान का ये दावा, सच्चा या झूठा

कोर्ट ने चिदंबरम की जेड सुरक्षा का ख्याल रखते हुए कल निर्देश दिया था कि चिदंबरम को जेल में अलग कोठरी में रखा जाए। वकील जनरल तुषार मेहता ने आश्वासन दिया कि जेल में चिदंबरम को पर्याप्त सुरक्षा दी जाएगी। बताते चलें कि मनीलॉन्ड्रिंग मामले में आत्मसमर्पण करने की चिदंबरम की याचिका के संबंध में कोर्ट ने ईडी को नोटिस जारी किया है।

कल खत्म हो गई थी सीबीआई हिरासत...

गौरतलब है कि 73 वर्षीय चिदंबरम की दो दिनों की सीबीआई हिरासत खत्म होने के बाद गुरुवार को उन्हें दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट के सामने पेश किया गया था। चिदंबरम को 21 अगस्त की रात गिरफ्तार किए जाने के बाद पांच चरणों में 15 दिनों की उनकी सीबीआई हिरासत गुरुवार को खत्म हुई।

यह भी पढ़ें: अफवाह या हकीकत, भारत का चंद्रयान उठायेगा इस झूठ से पर्दा

पूरा मामला...

चिदंबरम के वित्त मंत्री रहने के दौरान 2007 में आईएनएक्स मीडिया समूह को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने में बरती गई कथित अनियमितताओं को लेकर सीबीआई ने 15 मई 2017 को एफआईआर दर्ज की थी। यह मंजूरी 305 करोड़ रुपये का विदेशी धन प्राप्त करने के लिए दी गई थी। इसके बाद, ईडी ने भी 2017 में इस सिलसिले में मनी लॉन्ड्रिंग का एक मामला दर्ज किया था।

Harsh Pandey

Harsh Pandey

Next Story