×

हिंदू घर पाकिस्तानी झंड़ा: मंदिरों में देवी देवता, छत पर दुश्मन देश का ध्वज

देश के गुजरात राज्य से एक चौकाने वाली खबर सामने आई है। गुजरात राज्य से सटे बॉर्डर से कुछ मकानों पर पाकिस्तान का झंडा लहरा रहा है। मकान ही नहीं, मंदिरों के शिखरों पर भी देवी या देवता के झंडे के साथ पाकिस्तानी झंडा दिख जाता है। गुजरात राज्य से पाकिस्तान का जो बॉर्डर कच्छ के पास जुड़ता है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 20 Aug 2019 9:35 AM GMT

हिंदू घर पाकिस्तानी झंड़ा: मंदिरों में देवी देवता, छत पर दुश्मन देश का ध्वज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अहमदाबाद: देश के गुजरात राज्य से एक चौकाने वाली खबर सामने आई है। गुजरात राज्य से सटे बॉर्डर से कुछ मकानों पर पाकिस्तान का झंडा लहरा रहा है। मकान ही नहीं, मंदिरों के शिखरों पर भी देवी या देवता के झंडे के साथ पाकिस्तानी झंडा दिख जाता है। गुजरात राज्य से पाकिस्तान का जो बॉर्डर कच्छ के पास जुड़ता है।

वहां पाकिस्तानी हिस्से में बड़ी संख्या में हिंदू रहते हैं। थारपारकर ज़िला पाकिस्तान के सिंध प्रांत का वो ज़िला है, जहां 41 लाखों की तादाद में हिंदू रहते हैं। आपको पता है, कि इन हिंदू घरों और मंदिर प्रांगणों में पाकिस्तानी झंडा लहराने की वजह और अतीत क्या है।

ये भी देखें:यूपी: पहला मंत्रिमंडल विस्तार कल, हट सकते हैं ये मंत्री

थारपारकर जिले की कुल आबादी करीब 17 लाख है, जिसमें से 41 फीसदी से ज़्यादा हिंदू हैं। ये आंकड़ा 2017 की जनगणना का है लेकिन एक रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्तान के इस ज़िले में हिंदुओं की आबादी मुसलमानों से ज़्यादा है। इस रिपोर्ट में बताया गया है कि हाल में, गुजरात के बॉर्डर से साफ देखा गया कि इस ज़िले की सीमा में बने शेरांवाली मां के एक मंदिर की छत पर पाकिस्तानी झंडा लहरा रहा था।

हिंदू घरों पर पाकिस्तानी झंडे लहराने की वजह

हिंदुओं के घरों, गाड़ियों और कुछ मंदिरों पर भी इस समय में पाकिस्तानी झंडे लहराने का कारण कश्मीर को लेकर बने ताज़ा हालात हैं। पाकिस्तान के हिंदू पूरी तरह से पाकिस्तानी सेना और कश्मीर के लोगों की भावनाओं के साथ हैं। इन्हीं घटनाक्रमों के चलते पाकिस्तान के हिंदू बहुल सिंध इलाके में जगह जगह पाकिस्तानी झंडे लहराते दिख रहे हैं।

ये भी देखें:Google सर्विस बंद: कुछ भी कर लो नहीं चलेगा टीवी, मोबाइल

इससे पहले भी क्या लहराए थे झंडे?

पाकिस्तान के हिंदू अपने देश के प्रति समर्थन और भक्ति जताने के लिए इन दिनों अपने घरों और गाड़ियों पर देश का झंडा लगा रहे हैं, लेकिन इसी साल कुछ महीने पहले भी ऐसा हुआ था। जब फरवरी में पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट पर एयरस्ट्राइक की थी, तब भी दोनों देशों के बीच तनाव के हालात बने थे। उस वक्त भी थारपारकर और सिंध के हिंदुओं ने पाकिस्तान के प्रति अपनी देशभक्ति ज़ाहिर करने के लिए ये तरीका चुना था।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story