×

कोरोना वार्ड में नर्स पर थी बुरी निगाह, रात के अंधेरे में कर दिया कांड, हुई जमकर धुनाई

कोरोना आइसोलेशन वार्ड में नर्स के साथ छेड़छाड़ करना डॉक्टर को महंगा पड़ गया। नर्स ने जब ये बात साथ काम कर रहे बाकी साथियों को बताई तो वे भी क्रोधित हो गए। उनके साथ नर्स ने भी मिलकर डॉक्टर को बुरी तरह से पीट दिया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 July 2020 2:39 PM GMT

कोरोना वार्ड में नर्स पर थी बुरी निगाह, रात के अंधेरे में कर दिया कांड, हुई जमकर धुनाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

पंचकुला: कोरोना आइसोलेशन वार्ड में नर्स के साथ छेड़छाड़ करना डॉक्टर को महंगा पड़ गया। नर्स ने जब ये बात साथ काम कर रहे बाकी साथियों को बताई तो वे भी क्रोधित हो गए। उनके साथ नर्स ने भी मिलकर डॉक्टर को बुरी तरह से पीट दिया। घटना पंचकूला जिले की है।

दरअसल हुआ यूं कि सेक्टर-6 स्थित सामान्य अस्पताल में डॉक्टर ने रात में ड्यूटी के दौरान कमरे में नर्स से अश्लील हरकत करने की कोशिश की। नर्स का आरोप है कि डॉक्टर ने शराब पी रखी थी। नर्स ने उसे रोकने के लिए कोशिश कि लेकिन वह नहीं माना। जिसके बाद ये नौबत आई।

उसने इस मामले में पीएमओ और सीएमओ से शिकायत की है। जब पीएमओ मौके पर पहुंचीं तो डॉक्टर खाने का डिब्बा लेने के बहाने भाग निकला।

कोरोना से जंग: आशा एएनएम की सुरक्षा पर बड़ा कदम, मिली ये खास सुविधा

नर्सो ने की कार्रवाई की मांग

इसके बाद स्टाफ नर्स एसोसिएशन ने उसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया। नर्सों ने लामबंद होकर आरोपी डॉक्टर को अस्पताल से बाहर निकालने व उसके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए की जमकर प्रदर्शन किया।

एसोसिएशन ने चेतावनी दी थी की डॉक्टर के खिलाफ एआईआर दर्ज करवाई जाए। मामला संज्ञान में आने के बाद सीएमओ ने जांच टीम गठित कर दी है।

उधर आज दो दिन मंगलवार को दो दिन बाद डॉक्टर अस्पताल पहुंचा था तो नर्सों ने उसे दौड़ा-दौडकर पीटा। जिसके बाद मौके पर महिला थाना पुलिस पहुंची।

भारत में कोरोना का कहर, कम्युनिटी ट्रांसमिशन पर स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा बयान

आरोपी डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज

उसने आरोपी डॉक्टर मनोज के खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कर लिया है। लेकिन अस्पताल प्रबंधन की जांच जारी होने के चलते फिलहाल आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया है। उधर ये मामला अब ये मामला हरियाणा राज्य महिला आयोग तक जा पहुंचा है।

महिला आयोग की उपाध्यक्ष प्रीति भारद्वाज ने स्वास्थ्य विभाग की सीएमओ और पीएमओ को आयोग के समक्ष पेश होने के समन जारी किए हैं।

Newstrack

Newstrack

Next Story