Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

सीमा विवाद: पूर्वी लद्दाख का दौरा करेगी संसदीय समिति, जाएंगे राहुल समेत ये सांसद

लद्दाख में पिछले 9 महीने से तनाव बरकरार है। हाल में भारत-चीन के बीच एक अहम बैठक भी हुई थी। इस बीच रक्षा मामलों पर संसद की स्थायी समिति ने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में पैंगोंग झील और गलवान घाटी का दौरा करने का फैसला किया है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 13 Feb 2021 6:58 AM GMT

सीमा विवाद: पूर्वी लद्दाख का दौरा करेगी संसदीय समिति, जाएंगे राहुल समेत ये सांसद
X
सीमा विवाद: पूर्वी लद्दाख का दौरा करेगी संसदीय समिति, राहुल गांधी भी हैं सदस्य
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: लद्दाख में पिछले 9 महीने से तनाव बरकरार है। हाल में भारत-चीन के बीच एक अहम बैठक भी हुई थी। इस बीच रक्षा मामलों पर संसद की स्थायी समिति ने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में पैंगोंग झील और गलवान घाटी का दौरा करने का फैसला किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भाजपा के वरिष्ठ नेता जुएल ओराम की अध्यक्षता वाली समिति मई या जून के अंतिम हफ्ते में वहां के दौरे पर जाना चाहती है।

ये भी पढ़ें: ट्रैक्टर परेड हिंसा: लापता किसानों का पोस्टर लगाने पर दिल्ली पुलिस के जवान को पीटा

सरकार से लेनी होगी मंजूरी

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी और शरद पवार भी इस समिति के सदस्य हैं। आगे सूत्रों ने या भी बताया कि इन इलाकों का दौरा करने का फैसला समिति की पिछली बैठक में लिया गया था। हालांकि उस बैठक में गांधी शामिल नहीं हुए थे। सूत्रों ने बताया कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जाने के लिए समिति को सरकार से मंजूरी लेनी होगी।

राहुल गांधी ने बोला था हमला

गौरतलब है कि लंबी बातचीत के बाद चीन ने विवादित इलाके से पीछे हटने का फैसला लिया है। साथ ही LAC के पास उसने सैन्य तैनाती को भी कम करने की बात कही है। चीन के हटने के बाद भारतीय सेना भी जवानों की संख्या कम करेगी। इसको लेकर बकायदा रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में बयान भी दिया था। जिस पर राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के सामने खड़े नहीं हो पाए। देश की रक्षा करने की जिम्मेदारी उनकी थी, जिसमें वो विफल हुए हैं। सच्चाई ये है कि चीन के सामने पीएम मोदी टिक नहीं पाए और देश की जमीन उनको दे दी। राहुल ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री ने हिंदुस्तान की जमीन चीन को पकड़ाई है और यही सच्चाई है। मोदी जी इसका जवाब दें कि आखिर ऐसा क्यों किया? मोदी जी ने चीन के सामने सिर झुका दिया है।

ये भी पढ़ें: गिरफ्तार हुआ खूंखार आतंकी: भाजपा कार्यकर्ताओं का हत्यारा, घाटी में TRF का खौफ

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story