×

पीएम मोदी हुए रिटायर तो मिलेगी ये सुविधाएं, नहीं जानते होंगे आप

बता दें कि देश के प्रधानमंत्री को प्रति माह वेतन के रूप में 1.60 लाख रुपए मिलते हैं। इस बात का खुलासा 2012 में डाली गई एक आरटीआई से हुआ है, जिसका जवाब साल 2013 में मिला था।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 3 Feb 2020 1:38 PM GMT

पीएम मोदी हुए रिटायर तो मिलेगी ये सुविधाएं, नहीं जानते होंगे आप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल कर भारतीय जनता पार्टी सत्ता में काबिज हुई। पार्टी ने गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाया। उसके बाद से मोदी के चेहरे पर बीजेपी ने कई चुनाव जीते। इतना ही नहीं पीएम मोदी के नेतृत्व में 2019 के लोकसभा चुनाव में भी बीजेपी ने जीत हासिल की और दोबारा नरेंद्र मोदी सत्ता में काबिज हुए। तो आइए इस मौके पर हम आपको बताते हैं कि आखिर जब कभी नरेंद्र मोदी पीएम पर से हटेंगे तो उनको क्या सुविधाएं मिलेंगी, तो आइए जानते हैं...

बता दें कि देश के प्रधानमंत्री को प्रति माह वेतन के रूप में 1.60 लाख रुपए मिलते हैं। इस बात का खुलासा 2012 में डाली गई एक आरटीआई से हुआ है, जिसका जवाब साल 2013 में मिला था।

PM मोदी की गाड़ी हुई खराब तो क्या होगा? नहीं जानते होंगे आप ये खास बात

ये भी पढ़ें—साल में 1 दिन खुलती है ये दुकान: जानें क्यों और क्या है खासियत

हालांकि इस आंकड़े को जारी हुए कई साल हो गए तो पीएम के वेतन में वृद्धि भी संभव है। प्रधानमंत्री के रिटायर होने बाद भी उन्हें 20,000 रुपए प्रतिमाह की पेंशन दी जाती है। इसके अलावा उन्हें दिल्ली में एक बंगले के साथ ही एक पीए और एक चपरासी मिलता है।

इसके अलावा उन्हें फ्री रेल यात्रा सुविधा मिलती है। यहीं नहीं उन्हें आगामी पांच वर्षों तक कार्यालय के सारे खर्च का रिफंड मिलता है। यानी रिटायर होने के बाद पीएम मोदी को भी ये सुविधाएं दी जाएंगी। सभी भूतपूर्व प्रधानमंत्रियों को एक केबिनेट मंत्री के बराबर की सुविधाएँ मिलती हैं।

ये भी पढ़ें—सरकार ने 250 लोगों के खिलाफ उठाया ये कड़ा कदम, कोरोना पर फैला रहे थे अफवाह

यहां बिंदुओं में जानें कौन कौन सी सुविधाएं मिलती हैं

(1.) आजीवन मुफ्त आवास

(2.) नि:शुल्क चिकित्सा सहायता

(3.) 14 लोगों का सचिव स्टाफ

(4.) छह घरेलू स्तर के हवाई टिकट (एग्जीक्यूटिव क्लास)

(5.) पूरी तरह फ्री रेल यात्रा

(6.) 5 साल तक ऑफिस का पूरा खर्च

(7.) एक साल तक SPG सुरक्षा

(8.) ज़िंदगीभर के लिए मुफ्त बिजली और पानी

(9.) पांच साल के बाद: एक निजी सहायक और पिओन, वायु और ट्रेन यात्रा, कार्यालय खर्च के लिए सालाना 6,000 रुपये।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story