झारखंड में बोले PM मोदी, विरोधियों ने भी मान लिया फिर एक बार मोदी सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के लोहरदगा में एक जनसभा में संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मैं रांची और झारखंड के नागरिकों का इस मान सम्मान के लिए आभार व्यक्त करता हूं। कल ऐसा शानदार, जानदार दृश्य था जो देखते ही बनता था।

लोहरदगा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के लोहरदगा में एक जनसभा में संबोधित किया। उन्होंने कहा कि मैं रांची और झारखंड के नागरिकों का इस मान सम्मान के लिए आभार व्यक्त करता हूं। कल ऐसा शानदार, जानदार दृश्य था जो देखते ही बनता था, राजभवन तक एक इंच ऐसी जगह नहीं थी कि जहां पूरा रांची शहर खड़ा होकर आशीर्वाद न देता हो।

पीएम मोदी ने कहा कि आपकी इस ललकार ने दिल्ली की कुर्सी पर नजर गड़ाएं भ्रष्टाचारियों और महामिलावटियों में हड़कंप मचा दिया है। उन्होंने कहा कि तीन चरण के मतदान के बाद, 300 सीटों पर वोट पड़ने के बाद अब विरोधियों के लिए खुले रूप से पराजय स्वीकार करने के सिवाय कोई चारा नहीं बचा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें तो दूसरे चरण में ही अदांजा आ गया था, फिर भी बात करने की हिम्मत कर रहे थे, कल के चुनाव के बाद उनके चेहरे लटक गए है। विरोधियों ने भी मान लिया है कि फिर एक बार मोदी सरकार। उन्होंने कहा कि तीसरा चरण समाप्त होते होते इन लोगों ने अपनी तोप का मुंह मोड़ दिया है, अब तक जितनी गालियां वो मोदी को देते थे अब वो गालियां EVM को देने लगे हैं। अपनी हार का ठीकरा EVM पर फोड़ने की शुरुआत इन्होने पहले से ही कर दी है।

यह भी पढ़ें…आखिर प्रधानमंत्री भाजपा नेताओं के नफरत भरे बोल और जनहित के मुद्दों पर कब बोलेंगे: चिदंबरम

पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली में आपने मजबूत सरकार बनाई, तभी आज नक्सलवाद-माओवाद पर हम इतना काबू पा सके हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा-एनडीए सरकार के प्रयासों का ही परिणाम है कि देश में नक्सल प्रभावित जिलों की संख्या में बहुत कमी आई है।

उन्होंने कहा कि झारखंड में भी आप इसका अनुभव कर रहे हैं कि पहले जिन इलाकों में दिन ढलने के बाद लोग घर से बाहर निकलने से डरते थे, वहां अब स्थितियां तेजी से बदल रही हैं। आपने दो दिन पहले ही देखा कि किस तरह ईस्टर के पवित्र दिन श्रीलंका में आतंकवादियों ने किस तरह चर्च और दूसरी प्रमुख जगहों पर बम धमाके किए।

यह भी पढ़ें…विश्व कप को ध्यान में रखकर कमर को लेकर एहतियात बरतना जरूरी : धोनी

पीएम मोदी ने कहा कि जो दिन भगवान यीशू के संदेश की याद दिलाता है, उस दिन आतंकियों ने सैकड़ों लोगों की जान ले ली। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब, आपके इस चौकीदार की सरकार ने दिया। हमने घर में घुसकर आतंकियों को मारा, आतंक के सरपरस्तों को खत्म किया। आज हर आतंकी के मन में ये डर है कि अगर उसने कोई गलती की, तो ये मोदी है-उसे पाताल में भी खोजकर ठिकाने लगा देगा।

उन्होंने कहा कि याद रखिएगा कि कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों का आतंक को लेकर क्या रवैया है। ये लोग पाकिस्तान को सबक सिखाने वाले हमारे वीरों पर ही सवाल उठा रहे हैं। वो कह रहे हैं कि सबूत लाओ, तब हम मानेंगे कि पाकिस्तान में आतंकियों पर हमला हुआ। वो हमारे देश के वीर जवानों की नीयत पर, उनके पराक्रम पर शक कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें…दिल्ली: टिकट न मिलने से नाराज BJP सांसद उदित राज ने ज्वॉइन किया कांग्रेस

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस, देश की सेवा के लिए सरकार नहीं चलाना चाहती, वो सिर्फ एक परिवार के लिए सोचती है और उसी को समर्पित है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस ने जिसे मुख्यमंत्री बनाया है, जिसका वो समर्थन कर रही है, उस मुख्यमंत्री का कहना है कि फौज में तो वही नौजवान जाते हैं, जिन्हें दो वक्त की रोटी नसीब नहीं होती, जिन्हें अपने पेट की भूख मिटानी होती है! डूब मरो, डूब मरो ऐसी सोच रखने वालों।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अफगानिस्तान में फादर प्रेम को आतंकियों ने पकड़ लिया। उसी प्रकार से फादर टॉम को भी IS के आतंकियों ने पकड़ लिया था। यहां के सारे चर्च से लोग मेरे पास आते थे कि इन्हें बचाइए। आपका ये चौकीदार बारी बारी से उन्हें छुड़ाकर लाया और उनके परिवार के सुपुर्द कर दिया। आपके इस चौकीदार की नीयत नेक है इसलिए नीति साफ है।

यह भी पढ़ें…विश्व कप को ध्यान में रखकर कमर को लेकर एहतियात बरतना जरूरी : धोनी

उन्होंने कहा कि दूसरी तरफ कांग्रेस के पास सिर्फ वंशवाद है और गरीब को गरीब बनाए रखने की सोच है। इसी सोच की वजह से जहां भी कांग्रेस की सरकारें बन रही हैं, वो आदिवासियों को मिलने वाली सहायता बंद कर रही हैं।