यहां पुलिसकर्मियों का होगा कोरोना टेस्ट, जानें क्या है चाय की दुकान से कनेक्शन 

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बताया कि बंगले पर तैनात पुलिसकर्मियों को वहां से हटा दिया गया है और एहतियातन उन्हें अलग रखा गया है। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि इन पुलिसकर्मियों ने भी उस चाय की दुकान से चाय पी हो, इसलिए हम उनकी और वहां तैनात अन्य कर्मचारियों की जांच करेंगे।

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निजी आवास ‘मातोश्री’ में तैनात पुलिसकर्मियों की कोरोना वायरस संक्रमण के लिए जांच की जाएगी। इसकी जानकारी गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मंगलवार को दिया। दरअसल, यह निर्णय इसलिए लिया गया है क्योंकि एक दिन पहले बंगले के पास स्थित एक चाय की दुकान के मालिक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

चाय की दुकान के मालिक की रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने बताया कि बंगले पर तैनात पुलिसकर्मियों को वहां से हटा दिया गया है और एहतियातन उन्हें अलग रखा गया है। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि इन पुलिसकर्मियों ने भी उस चाय की दुकान से चाय पी हो, इसलिए हम उनकी और वहां तैनात अन्य कर्मचारियों की जांच करेंगे।

गृह मंत्री ने एक समाचार चैनल से कहा कि यदि वे (सुरक्षाकर्मी) संक्रमित हो गए हैं तो हम उन्हें कोरोना के फैलाव को रोकने के मद्देनजर अलग केंद्र में रखेंगे।

चाय वाला कैसे कोरोना से संक्रमित हो गया

चाय बेचने वाले व्यक्ति को कोरोना से संक्रमित होने के चलते जोगेश्वरी स्थित एचबीटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि छोटी सी दुकान के भीतर रहने वाला यह व्यक्ति कोरोना से कैसे संक्रमित हो गया। मामला सामने आने के बाद, सोमवार को अधिकारियों ने क्षेत्र में कीटाणुनाशक का छिड़काव किया।

ये भी देखें: धरा गया 12 घंटे बाद ही फरार कोरोना संक्रमित जमाती 

लॉकडाउन के मानदंडों की धज्जियां उड़ाने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

इस बीच, देशमुख ने उन लोगों को भी लताड़ लगाई, जो लॉकडाउन के मानदंडों की धज्जियां उड़ा रहे हैं और तुच्छ कारणों से अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं। साथ ही गृह मंत्री ने ऐसे लोगों पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

उन्होंने कहा कि हम सतर्कता बरत रहे हैं। हमने वाहनों को जब्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं और सोमवार तक 4,000 वाहनों को जब्त कर लिया गया है। गृह मंत्री ने संक्रमित जोनों में रहने वाले लोगों से कहा कि वे घबराएं नहीं और अपने घरों से बाहर न निकलकर राज्य सरकार का सहयोग करें।

ये भी देखें: मिसाल बने मुस्लिम भाई: वृध्दा की मौत पर खर्च किए अपने पैसे, हो रही तारीफ

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App