शाहीन बाग में बुर्क़ा पहनी लड़की का अश्लील वीडियो वायरल, कर रही थी ये गंदा काम

इस विडियो, स्क्रीनशॉट के साथ कैप्शन लिखा गया है, ‘जैसे-जैसे दिन बीत रहा है शाहीन बाग की सच्चाई सामने आने लगी है।’ विडियो के आपत्तिजनक होने की वजह से टाइम्स फैक्ट चेक इसका लिंक नहीं दे रहा है।

Published by Aditya Mishra Published: March 13, 2020 | 5:19 pm
Modified: March 13, 2020 | 5:29 pm

नई दिल्ली: बहुत से सोशल मीडिया यूज़र्स और वॉट्सऐप यूज़र्स एक पॉर्न विडियो और इस विडियो से लिए गए स्क्रीनशॉट को शेयर करते हुए यह दावा कर रहे हैं कि यह शाहीन बाग का विडियो है, जहां नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है।

इस विडियो, स्क्रीनशॉट के साथ कैप्शन लिखा गया है, ‘जैसे-जैसे दिन बीत रहा है शाहीन बाग की सच्चाई सामने आने लगी है।’ विडियो के आपत्तिजनक होने की वजह से टाइम्स फैक्ट चेक इसका लिंक नहीं दे रहा है।

विडियो कम से कम दो साल पुराना है। इससे यह साफ है कि विडियो का शाहीन बाग और वहां चल रहे विरोध प्रदर्शन से कोई लेना-देना नहीं है। कैसे की पड़ताल? गूगल क्रोम एक्सटेंशन InVID का इस्तेमाल कर के हमने विडियो को कई की फ्रेम्स में बांटा और फिर इन्हें अलग-अलग सर्च इंजन पर रिवर्स सर्च किया।

ये भी पढ़ें…शाहीन बाग के इस नाम में छिपा है एक ऐसा राज, जान उड़ जाएंगे होश

2018 से शेयर किया जा रहा है ये Video

Yandex पर रिवर्स इमेज सर्च करने से हमें 30 मई, 2018 को किए ट्वीट का लिंक मिला। इस ट्वीट में दो तस्वीरें थीं, जिनमें से एक उसी विडियो का स्क्रीनशॉट था जिसे अब शाहीन बाग का बताकर शेयर किया जा रहा है। इससे यह साबित हो जाता है कि विडियो इंटरनेट पर साल 2018 से शेयर किया जा रहा है।

इसके बाद हमने इस ट्वीट में शेयर किए स्क्रीनशॉट को रिवर्स सर्च किया जिससे हमें एक पॉर्न वेबसाइट का लिंक मिला जहां ठीक वही विडियो था जिसे अब शेयर किया जा रहा है।

पॉर्न वेबसाइट पर इस विडियो के साथ लिखे टाइटल के मुताबिक यह उज्बेकिस्तान का कपल है। हालांकि, हम इसकी पुष्टि नहीं कर सकते। वेबसाइट के मुताबिक, विडियो 2 साल पहले पब्लिश हुआ था हालांकि तारीख नहीं लिखी थी।

बहुत से सोशल मीडिया यूज़र्स एक पॉर्न विडियो, विडियो के स्क्रीनशॉट को दिल्ली के शाहीन बाग का बताकर शेयर कर रहे हैं। यह विडियो असल में 2018 का है और इसलिए इसके साथ किया जा रहा दावा भी गलत है।

शाहीन बाग पर बीजेपी नेता की चेतावनी, जाफराबाद को नहीं बनने देंगे ऐसा