Top

उद्योगपति मित्रों को सारी फैक्ट्री दे देगी सरकार: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं। यहां रेल कोच फैक्ट्री के कर्मचारियों के धरने में वो शामिल हुईं। उन्होंने कहा कि देश की संपदाओं, धन कुछ उद्योगपतियों को सौंप दिया जाएगा। यह सरकार इस फैक्ट्री से निगमीकरण करने की शुरुआत करने जा रही।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 27 Aug 2019 2:45 PM GMT

उद्योगपति मित्रों को सारी फैक्ट्री दे देगी सरकार: प्रियंका गांधी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रायबरेली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मंगलवार को एक दिवसीय दौरे पर रायबरेली पहुंचीं। यहां रेल कोच फैक्ट्री के कर्मचारियों के धरने में वो शामिल हुईं। उन्होंने कहा कि देश की संपदाओं, धन कुछ उद्योगपतियों को सौंप दिया जाएगा। यह सरकार इस फैक्ट्री से निगमीकरण करने की शुरुआत करने जा रही। ऊपर से लगता है कि देश बहुत मजबूत है लेकिन अंदर से खोखला हो रहा है।

यह भी पढ़ें...रिजर्व बैंक से सरकार को मिले पैसे का क्या है मतलब?

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि सिर्फ राजनीतिक आधार के चलते इस फ़ैक्ट्री का निगमीकरण किया जा रहा है जिससे उसे अपने उद्योपति मित्रों को सौंप सके। आपके संघर्ष में आपके साथ हूं। उन्होंने कहा कि आप जब बुलाएंगे मैं तब तब आपके साथ खड़ी हूं।

यह भी पढ़ें...LoC से बड़ी खबर: पाकिस्तान ने भेजे 100 स्पेशल कमांडो, भारत टक्कर देने को तैयार

उन्होंने ये भी कहा कि 2006 आपने सोनिया गांधी के संघर्ष में साथ दिया। 2006 में प्रदेश सरकार ने जमीन देने से मना किया तो यहां की जनता के साथ उन्होंने संघर्ष किया। यह फैक्ट्री लोगों को रोजगार देने के लिए बनाई गई। आज यह फैक्ट्री फायदे में चलती है तो अपनी छमता से ज्यादा उत्पादन करती है, लेकिन इसके बाद भी निगमीकरण किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें...पाक की हरकत का बड़ा खुलासा, यहां-यहां छिपाये हैं न्यूक्लियर बम

उन्होंने कहा कि निगमीकरण इसलिए किया जा रहा है, क्योंकि यह फैक्ट्री वह अपने उद्योगपति मित्रों को दे सके। प्रियंका गांधी रेलकोच फैक्ट्री में धरना खत्म कर भुएमऊ गेस्ट हाउस के लिए रवाना हो गईं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story