×

इमारत जमींदोज: लाशों के ढेर देख बौखलाई पुलिस, इन लोगों के खिलाफ लिया एक्शन

रायगढ़ में पांच मंजिला इमारत के धराशायी होने के बाद पुलिस ने मामले में पांच लोगों के खिलाफ धारा 304, 337, 338 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Shivani
Published on: 25 Aug 2020 5:22 PM GMT
इमारत जमींदोज: लाशों के ढेर देख बौखलाई पुलिस, इन लोगों के खिलाफ लिया एक्शन
X
Rescue Operation
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

रायगढ़: महाराष्ट्र के रायगढ़ में बीते दिन एक पांच मंजिला इमारत के धराशायी होने के बाद से अभी तक मलबे में दबे लोगों को रेस्क्यू ऑपेरशन चला कर बचाया जा रहा है। बताया गया था कि इस बिल्डिंग के मलबे में करीब 100 लोग दब गए थे । जिसमे से अब तक 11 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। मलबे के नीचे से कई लोगो की जान बचा कर उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया। लेकिन करीब 24 घंटों से ज्यादा समय होने के बाद भी अब तक 5 लोगों के मलबे में दबे होने की संभावना है। एडीआरएफ की आठ टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई हैं।

इमारत गिरने के मामले में 5 लोगों पर गंभीर धाराओं में केस दर्ज

वहीं इस पूरे प्रकरण के बाद पुलिस प्रशासन सख्त नजर आई। पुलिस ने मामले में पांच लोगों के खिलाफ धारा 304, 337, 338 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसमें इमारत के बिल्डर फारुख काजी, आर्किटेक्ट गौरव शाह, बिल्डिंग के आरसीसी सलाहकार बाहुबली धमाने, महाड नगर पालिका के कार्यकारी अधिकारी दीपक झिंझाड़ और बिल्डिंग इंस्पेक्टर शशिकांत दिघे को आरोपी बनाया गया है। बता दें कि आईपीसी की धारा 304 के तहत दोषी पाए जान पर कम से कम 10 साल से लेकर उम्र कैद तक की सजा का प्रावधान है।

मलबे में फंसा बच्चा: 20 घंटे बाद हुआ चमत्कार, एनडीआरएफ की टीम का कमाल

ये भी पढ़ेंः चिकन खाने वालों को खतरा, मुर्गियां फैला रही मौत, इस देश मे बैन

अमित शाह ने जताया दुख

मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जिले के अधिकारियों से बात की है और बचाव एवं राहत कार्य तेज करने को कहा है। वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी बचाव कार्य पर लगातार नजर रखे हुए हैं।

मलबे में फंसा बच्चा: 20 घंटे बाद हुआ चमत्कार, एनडीआरएफ की टीम का कमाल

उन्होंने कहा कि इस हादसे पर कहा कि महाराष्ट्र के रायगढ़ में इमारत का गिरना बहुत दुखद है। सभी संभव सहायता उपलब्ध कराने के लिए एनडीआरएफ के महानिदेशक से बात की है। टीम रास्ते में हैं और जल्द से जल्द बचाव कार्य में अपना सहयोग देंगी। सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा हूं।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story