रेलवे का बड़ा एलानः 10 दिन में 36 लाख यात्री करेंगे सफर, RAC होगा कन्फर्म

भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए कई योजनाएं बनाई है। इसकी घोषणा शनिवार को रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने की।

रेलवे

रेलवे

नई दिल्ली: लॉकडाउन के कारण अपने गृह राज्य के मिलों दूर फंसे लोगों को रेल सेवा शुरू होने के बाद से विभाग लगातार राहत दे रहा है। प्रतिदिन दो सौ ट्रेनें चलाने का एलान करने के बाद अब रेलवे ने फिर यात्रियों की सुविधा के लिए बड़ा एलान किया है।

भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए कई योजनाएं बनाई है। इसकी घोषणा शनिवार को रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने की।

लगातार चलाई जाएंगी श्रमिक स्पेशल ट्रेनें

इसके तहत सभी प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें लगातार चलाई जाएगी। ये सुविधा तब तक दी जाएगी, जब तक आखिरी मजदूर अपने घर नहीं पहुंच जाता।

10 दिनों में 36 लाख प्रवासी मजदूर करेंगे यात्रा

इस योजना के क्रियान्वयन के लिए रेलवे आगामी 10 दिनों में 36 लाख लोगों को यात्रा करवाएगा। इन यात्रियों में 35 लाख प्रवासी श्रमिक हैं, जिन्हें एक राज्य से दूसरे राज्य लाया जाएगा तो वहीं 10 लाख ऐसे श्रमिक हैं जो राज्य के अंदर अपने जिलों तक सफर करेंगे। जानकारी के मुताबिक, अब तक 2,600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें यात्रा पूरा कर चुकी हैं।

ये भी पढ़ें- झांसी मंडल ने किया 34 ट्रेनों का संचालन, 40,000 श्रमिक पहुंचे अपने गंतव्य

यात्रा से 30 दिन पहले टिकट रिजर्वेशन जरूरी:

बता दें कि स्पेशल ट्रेनों में सफर को लेकर रेलवे ने 30 दिन पहले ही रिजर्वेशन करवाने के निर्देश दिए है। इसके पहले तक ट्रेन यात्रा के लिए 7 दिन पहले टिकट बुकिंग की इजाजत थी।

1 हजार से ज्यादा टिकट काउंटर खुले

वहीं एक जून से चलने वाली 200 ट्रेनों के टिकट बुक करने के लिए रेलवे ने स्टेशनों पर टिकट काउंटर भी खोल दिये हैं। इसके तहत अब तक एक हजार से ज्यादा टिकट काउंटर खोले जा चुके हैं और जरूरत के हिसाब से आगे और भी काउंटर्स खोले जाएंगे।

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट के बीच दांव पर इनकी जान: पहुंचे प्रवासी श्रमिकों के घर, ये है वजह

अन्य माध्यमो से टिकट बुकिंग की अनुमति

इतना ही नही यात्री IRCTC एजेंट, पोस्ट ऑफिस, कॉमन सर्विस सेंटर्स आदि से भी अब टिकट बुक करवा सकेंगे। बता दें कि सोशल डिस्टेसिंग और लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए इसके पहले सिर्फ IRCTC की वेबसाइट और ऐप से ही टिकट बुकिंग की सुविधा दी गयी थी।

RAC कन्फर्म होने की पूरी संभावना:

यात्री टिकट कंफ्फम होने पर ही यात्रा कर सकते हैं। ऐसे में रास्ते मे किसी यात्री के ट्रेन में चढ़ने की अनुमति नही है।ऐसे में रिजर्वेशन अंगेस्ट कैंसलेशन (RAC) टिकट के कन्फर्म होने की पूरी संभावना है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।