रायसीना डायलॉग: बजेगा मोदी का डंका, साथ होंगे 100 देशों के 700 सदस्य

दिल्ली में मंगलवार को रायसीना डायलॉग 2020 का आगाज हो चुका है। कॉन्फ्रेंस में मौजूदा वैश्विक चुनौतियों के बारे में चर्चा की जाएगी। इस कॉन्फ्रेंस में सात पूर्व राष्ट्रप्रमुख और 12 देशों के विदेश मंत्रियों समेत 100 देशों के 700 सदस्य शिरकत कर रहे हैं।

नई दिल्ली: भारत की फ्लैगशिप ग्लोबल कॉन्फ्रेंस ‘रायसीना डायलॉग’ दिल्ली में मंगलवार से शुरू हो गया। जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रायसीना डायलॉग 2020 के उद्घाटन सत्र में भाग लेने के लिए पहुंच गए हैं। बता दें कि पीएम मोदी के साथ विदेश मंत्री एस जयशंकर भी मौजूद हैं।

ये भी देखें : युवा महोत्सव में आये हुए लोगों ने जमकर मस्ती की, देखें तस्वीरें

100 देशों के 700 सदस्य शिरकत कर रहे हैं

दरअसल, दिल्ली में मंगलवार को रायसीना डायलॉग 2020 का आगाज हो चुका है। कॉन्फ्रेंस में मौजूदा वैश्विक चुनौतियों के बारे में चर्चा की जाएगी। इस कॉन्फ्रेंस में सात पूर्व राष्ट्रप्रमुख और 12 देशों के विदेश मंत्रियों समेत 100 देशों के 700 सदस्य शिरकत कर रहे हैं। वैश्विक राजनीति और वैश्विक अर्थव्यवस्था पर आधारित इस कॉन्फ्रेंस में 100 देशों से ज्यादा के तकरीबन 700 नुमाइंदे हिस्सा ले रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संबोधित करेंगे

कॉन्फ्रेंस को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संबोधित करेंगे । इस डायलॉग में बांग्लादेश के सूचना मंत्री भी शामिल हो रहे हैं। उनकी शिरकत चर्चा में है क्योंकि बांग्लादेश इससे पहले अपने चार मंत्रियों का दौरा रद्द कर चुका है।

ये भी देखें : BSNL के ग्राहकों तगड़ा झटका! इन प्लान्स में कर दिए बड़े बदलाव

बांग्लादेश से सूचना मंत्री मोहम्मद एच महमूद शामिल हो रहे हैं

तीन दिन चलने वाले इस कॉन्फ्रेंस में रूस, ईरान, डेनमार्क, हंगरी, मालदीव, दक्षिण अफ्रीका, इस्टोनिया और यूरोपीय यूनियन सहित 12 देशों के विदेश मंत्री शामिल हो रहे हैं। बांग्लादेश ने अपने सूचना मंत्री मोहम्मद एच महमूद को भेजा है। हालांकि कॉन्फ्रेंस 3 दिन का ही है लेकिन सूचना मंत्री 5 दिन के दौरे पर आए हैं।

मंगलवार को बांग्लादेश के आधिकारिक ब्रॉडकास्टर बांग्लादेश बेतार और भारत के ऑल इंडिया रेडियो के बीच कंटेंट शेयरिंग प्रोग्राम को लेकर एक समझौत हुआ। भारत की तरफ से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और बांग्लादेश की तरफ से एच महमूद शामिल हुए थे।