Top

राम मंदिर पर बड़ा फैसला: आखिर क्या होगा 23 दिन बाद?

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 16 Oct 2019 11:14 AM GMT

राम मंदिर पर बड़ा फैसला: आखिर क्या होगा 23 दिन बाद?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: देश के सबसे बड़े मुकदमे यानि अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी हो गई है। अदालत ने इस मामले में फैसला सुरक्षित रखा है। वहीं 23 दिन अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला बाद आएगा। पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ अदालत में बुधवार को राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद मामले की लगातार 40वें दिन सुनवाई पूरी किया।

सुनवाई एक घंटे पहले हुई खत्म

आज सुनवाई शुरू होते ही मुख्य न्यायाधीश ने साफ कर दिया कि आज शाम को पांच बजे मामले में अंतिम सुनवाई होगी। हालांकि सुनवाई एक घंटे पहले चार बजे ही खत्म हो गई।

खुशखबरी! राममंदिर पर इस महीने हो जाएगा फैसला

आज मुस्लिम और हिंदू पक्ष ने अपनी-अपनी दलीलें अदालत के सामने पेश कीं। इस दौरान कोर्टरूम में ड्रामा देखने को मिला। मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने हिंदू महासभा के वकील द्वारा पेश किए गए नक्शे को फाड़ दिया।

फैसला लिखने में चार सप्ताह का समय लगेगा

इससे पहले मंगलवार को सीजेआई ने कहा था कि सभी पक्ष 16 अक्तूबर तक मामले से संबंधित दलीलें पेश कर दें क्योंकि फिर उन्हें फैसला लिखने में चार सप्ताह का समय लगेगा।

ये भी पढ़ें—Ram Mandir Case : फैसले तक चलता रहेगा महायज्ञ, शिवसैनिकों ने लिया प्रण

आज कोर्ट में हुआ ड्रामा

हिंदू महासभा के वकील विकास सिंह ने ऑक्सफोर्ड की एक किताब का हवाला दिया और मुस्लिम पक्ष के वकील राजीव धवन ने किताब के नक्शे को फाड़ दिया। वकील के इस रवैये से सीजेआई रंजन गोगोई नाराज दिखाई दिए। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा ही चलता रहा तो वह उठकर चले जाएंगे। सीजेआई गोगोई ने अखिल भारतीय हिंदू महासभा का अयोध्या मंदिर को लेकर दी गई दलील पर कहा, 'यदि इस तरह की बहस जारी रहेगी तो हम उठकर चले जाएंगे।' इसपर हिंदू महासभा के वकील ने कहा, 'मैं अदालत की बहुत इज्जत करता हूं। मैंने न्यायालय के शिष्टाचार को भंग नहीं किया है।'

ये भी पढ़ें—राम जन्मभूमि विवाद पर सुनवाई पूरी, सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

विवाद से जुड़ी खास बातें

1. सुनवाई एक घंटे पहले शाम चार बजे ही खत्म हो गई

2. 23 दिन बाद आएगा सुप्रीम कोर्ट का फैसला

3. मध्यस्थता पैनल ने अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को सौंपी

4. सुन्नी वक्फ बोर्ड के केस वापस लेने, मध्यस्थता करने या दावा छोड़ने की बात अफवाह: मुस्लिम पक्षकार

5. महंत नृत्य गोपाल दास समेत अनेक की सुरक्षा बढ़ाई गई।

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story