रांची: पति पर दूसरी पत्नी की हत्या का आरोप, गिरफ्त में शेख बिलाल

मृतक सूफिया परवीन के सिर का रांची के रिम्स में पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम में इस बात की पुष्टि हो गई है कि, सिर और धड़ एक ही युवती की है।

Published by Roshni Khan Published: January 14, 2021 | 2:57 pm
jharkhand-matter

रांची: पति पर दूसरी पत्नी की हत्या का आरोप, गिरफ्त में शेख बिलाल (PC: social media)

रांची: राजधानी रांची में 03 जनवरी को युवती का सिर कटा नग्न शव बरामद मामले में पुलिस खुलासे के बेहद क़रीब पहुंच गई है। इस मामले में मुख्य आरोपी और मृतक के पति शेख बिलाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस फिलहाल, आरोपी से गुप्त स्थान पर पूछताछ कर रही है। इस मामले में आरोपी के खेत से 12 जनवरी को धड़ से अलग सिर बरामद किया गया था। साथ ही हत्या में इस्तेमाल हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं। रांची पुलिस ने शेख बिलाल की पहली पत्नी और नाबालिग पुत्र को भी गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें:Kanpur Dehat: सीडीओ ने की मिशन शक्ति के संबंध में समीक्षा बैठक, दिए निर्देश

रिम्स में पोस्टमार्टम

मृतक सूफिया परवीन के सिर का रांची के रिम्स में पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम में इस बात की पुष्टि हो गई है कि, सिर और धड़ एक ही युवती की है। धड़ और कटे सिर का ब्लड ग्रुप भी मैच कर गया है। लिहाज़ा, पुलिस पूरी तरह आश्वस्त हो चुकी है कि, आरोपी बिलाल के खेत से बरामद सिर सूफिया परवीन की ही है। इस बीच आरोपी शेख बिलाल की गिरफ्तारी से पुलिस मामले के खुलासे के बेहद नज़दीक पहुंच गई है।

jharkhand-matter
jharkhand-matter (PC: social media)

सूफिया को जान का डर

मृतक सूफिया परवीन ने आपराधिक प्रवृत्ति के शेख बिलाल से शादी की थी। सूफिया आरोपी की दूसरी पत्नी थी। मई 2020 में सूफिया ने पिठौरिया थाना में अपने पति और उसकी पहली पत्नी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इस एफआईआर में कहा गया था कि, बिलाल ने झूठ बोलकर उससे शादी की है। शादी के बाद उसे पता चला कि, उसके पति पहले से शादीसुदा हैं। शादी के कुछ दिनों बाद ही उसके साथ मारपीट की जाने लगी। उसे अपनी जान का डर सताने लगा।

हत्या को लेकर राजनीति

इस बीच रांची के ओरमांझी थाना क्षेत्र से 03 जनवरी को युवती का सिर कटा नग्न शव बरामद होने के बाद राजनीति शुरू हो गई। विपक्षी पार्टी भाजपा ने इसे लेकर राजभवन के पास धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। राज्यपाल से मिलकर बीजेपी की महिला मोर्चा की नेताओं ने पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की। इतना ही नहीं इस मामले को लेकर हेमंत सरकार को कटघरे में खड़ा किया गया। भाजपा का आरोप है कि, वर्तमान सरकार में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं।

ये भी पढ़ें:कोरोना पेशेंट ने चौथी मंजिल से कूदकर दे दी जान, पूरी बात जानकर रो पड़ेंगे आप

मुख्यमंत्री के काफिला पर हमला

युवती का शव बरामद होने के बाद रांची में मुख्यमंत्री के काफिला पर हमला भी किया गया। किशोरगंज चौक से गुजरने के दौरान सीएम के कारकेड को रोककर उसे निशाना बनाया गया। मामला इतना ही बढ़ा कि, राज्य सरकार को दो सदस्यीय कमेटी का गठन करना पड़ा। सत्तधारी पार्टी झामुमो, कांग्रेस और राजद ने इसके लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया। हालांकि, बीजेपी इससे इनकार करती है।

रिपोर्ट- शाहनवाज़

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App