अब बचेगी जान: ये दवा खाने वाले मरीजों को नहीं हो रहा कोरोना, सामने आई रिपोर्ट

कोरोना के बढ़ते मरीजों पर एक नई रिपोर्ट सामने आई है। हेपेटाइटिस-सी की दवा खाने वाले मरीजों पर कोरोना वायरस का असर नहीं दिखाई पड़ रहा है।

covid 19

अब बचेगी जान: ये दवा खाने वाले मरीजों को नहीं हो रहा कोरोना, सामने आई रिपोर्ट

रोहतक: कोरोना के बढ़ते मरीजों पर एक नई रिपोर्ट सामने आई है। हेपेटाइटिस-सी की दवा खाने वाले मरीजों पर कोरोना वायरस का असर नहीं दिखाई पड़  रहा है। ऐसे में कई देशों में इस दवा का ट्रायल भी चल रहा है और भारत में भी इसी कड़ी में रिसर्च किया जा रहा है। इसके चलते रोहतक पीजीआई में अब तक 2000 ऐसे मरीजों का चयन किया गया है कि जो हेपेटाइटिस-सी मतलब काला पीलिया की दवा ले रहे हैं। इन सब में से किसी पर कोरोना का कोई असर नहीं दिखाई दिया है।

ये भी पढ़ें…ED के सामने नहीं पेश होंगी रिया चक्रवर्ती, अब बनाया ये नया बहाना

कोरोना का असर तक दिखाई नहीं दिया

देश के रोहतक पीजीआई में हेपेटाइटिस-सी का स्टेट नोडल ट्रीटमेंट सेंटर है। रोहतक के इस सेंटर के इंचार्ज डॉ. प्रवीण मल्होत्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि ब्रिटेन, ब्राजील, ईरान और सऊदी अरब आदि देशों में हेपेटाइटिस-सी के प्रभावी होने के प्रमाण मिले हैं। साथ ही इसकी दवा खाने वाले मरीजों पर कोरोना का असर तक दिखाई नहीं दिया है।

बीते 4 महीने के दौरान हरियाणा में करीबन 5000 हेपेटाइटिस-सी के मरीज दवा ले रहे हैं। ऐसे में हम इस पर रिसर्च कर रहे हैं और अभी तक 2000 लोगों का डाटा जुटा चुके हैं।

कोरोना टेस्ट
कोरोना टेस्ट

ये भी पढ़ें…BMC ने खत्म किया पटना के SP विनय तिवारी का क्वारंटीन, रखी ये शर्त

कोरोना वायरस से लड़ने में सक्षम

साथ ही इसमें बेहद खुशी की बात यह है कि इन मरीजों में से किसी में भी कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। हालांकि यह परोक्ष प्रमाण है, लेकिन उम्मीद यही है कि शायद हेपेटाइटिस की दवा कोरोना वायरस से लड़ने में सक्षम होगी।

आपको बता दें कि कोविड मरीजों के इलाज के लिए रोहतक पीजीआई में काला पीलिया की दवाई का ट्रॉयल करने की इजाजत मिल गई है और इसके लिए 86 लाख रुपए की राशि भी मंजूर कर दी गई है। इसके बारे में हैल्थ यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ ओपी कालरा ने ये जानकारी दी।

ये भी पढ़ें…डोनाल्‍ड ट्रंप का चीन के खिलाफ कड़ा ऐक्शन, TikTok पर किया ये एलान, रखी ये शर्त

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App