SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी: करें इस स्कीम में निवेश, हर महीने मिलेगा फायदा

SBI एन्युटी डिपॉजिट स्कीम के तहत अपने उपभोक्ताओं को हर महीने एक निश्चित रकम का भुगतान करता है।

SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी: करें इस स्कीम में निवेश, हर महीने मिलेगा फायदा

SBI ग्राहकों के लिए खुशखबरी: करें इस स्कीम में निवेश, हर महीने मिलेगा फायदा

नई दिल्लीे: अगर आप एसबीआई के ग्राहक हैं तो आपके लिए खुशखबरी है। अब आप भी हर महीने पेंशन पा सकते हैं। SBI एन्युटी डिपॉजिट स्कीम के तहत अपने उपभोक्ताओं को हर महीने एक निश्चित रकम का भुगतान करता है। हालांकि, इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको बैंक में एक निश्चित राशि जमा करवानी होगी। बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक, एन्युटी डिपॉजिट स्कीम के ग्राहकों को हर महीने बैंक द्वारा एक निश्चित राशि का भुगतान किया जाता है। अगर आप भी इस स्किम का लाभ पाना चाहते हैं तो, जानिए ये जरुरी बातें।

यह भी पढ़ें: राफेल डील: राजनाथ ने कहा, कांग्रेस को माफ नहीं करेगा देश, इसलिए लगाए झूठे आरोप

SBI की एन्युटी डिपॉजिट स्कीम

SBI की एन्युटी डिपॉजिट स्कीम में जब आप एक निश्चित राशि जमा करवाते हैं तो बैंक हर महीने उस राशि पर अर्जित ब्याज और मूलधन का एक हिस्सा आपको उपलब्ध कराता है। यानि कि आप इस स्किम में जो पैसे लगाते हैं वो आपको ब्याज समेत वापस कर दिये जाते हैं। बैंक के अनुसार, आपके पैसे जमा कराने की तारीख का एक महीना पूरा हो जाने के बाद ब्याज का भुगतान उस दिन से शुरु होता है।

एन्युटी डिपॉजिट स्कीेम के नियम और शर्तें

SBI की एन्युटी डिपॉजिट स्कीम में आप कम से कम 25 हजार रुपये तक जमा करवा सकते हैं। हालांकि, इसकी कोई अधिकतम सीमा तय नहीं की गई है।

अगर बात करें मैच्योरिटी अवधि की तो आप इसमें 3, 4, 5, 7 और 10 साल के लिए इंवेस्ट कर सकते हैं।

इस स्किम पर आपको उतना ही ब्याज दिया जाता है, जितना कि फिक्ड्से  डिपॉजिट पर जो अवधि पर निर्भर करता है। हाल ही में किए गए संसोधन के बाद SBI 3 से 10 साल तक के फिक्ड  डिपॉजिट पर ग्राहकों को 6.25 प्रतिशत ब्याेज मिल रहा है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, अगर एसबीआई एन्युटी डिपॉजिट स्कीम की मैच्योरिटी से पहले ही खाता धारक की मौत हो जाती है तो बैंक नॉमिनी को पैसे निकालने की अनुमति देता है।

यह भी पढ़ें: तो तुरंत करें इन 5 चीजों का उपयोग, बीमारी रहेगी कोसो दूर