×

जम्मू-कश्मीर में शांति से मनाई जाएगी ईद: राज्यपाल मलिक

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब प्रदेश में हालात सामान्य हो रहे हैं। उधमपुर और सांबा के बाद शुक्रवार को जम्मू से भी धारा 144 हटा दी गई। जम्मू में कल से सभी स्कूल-कॉलेज खुलेंगे। वहीं कश्मीर में भी धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 9 Aug 2019 1:35 PM GMT

जम्मू-कश्मीर में शांति से मनाई जाएगी ईद: राज्यपाल मलिक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब प्रदेश में हालात सामान्य हो रहे हैं। उधमपुर और सांबा के बाद शुक्रवार को जम्मू से भी धारा 144 हटा दी गई। जम्मू में कल से सभी स्कूल-कॉलेज खुलेंगे। वहीं कश्मीर में भी धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आज कश्मीर के कुछ इलाकों का दौरा किया। उन्होंने कहा कि कहा कि राज्य में हालात सुधर रहे हैं। राज्यपाल ने कहा कि राज्य में ईद पूरी शांति के साथ मनाई जाएगी।

यह भी पढ़ें…आर्टिकल 370: PAK को उसी के प्लान में मात देने के लिए भारत ने तैयार की रणनीति

जम्मू की डिप्टी मजिस्ट्रेट सुषमा चौहान के मुताबिक धारा 144 को जम्मू नगर सीमा से हटा लिया गया है। सभी स्कूल और कॉलेज 10 अगस्त से खुलेंगे। हालांकि यहां इंटरनेट सेवाओं पर अभी रोक लगी रहेगी।

इससे पहले जम्मू कश्मीर के दूसरे जिलों से भी धारा 144 हटा ली गई थी। गुरुवार को ही प्रशासन ने फैसला लिया था कि जम्मू के उधमपुर और सांबा में सरकारी-प्राइवेट स्कूल और कॉलेज को शुक्रवार से खोला जाएगा। ये सभी स्कूल इस हफ्ते बंद रहे थे।

यह भी पढ़ें…धारा 370 पर काशी के संतों ने ठोकी पीएम की पीठ, कांग्रेस को जमकर कोसा

उधमपुर के डिप्टी कमिश्नर पीयूष सिंगला के मुताबिक धारा 144 अभी भी लागू है लेकिन कुछ जगहों पर छूट दी गई है। हर इलाके पर नजर बनाए हुए हैं, बाजारों को सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक के लिए खुला रखा गया है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अब केंद्र शासित प्रदेश बन गए हैं। राज्य में किसी तरह का हंगामा न हो और अलगाववादी प्रदर्शन न कर सकें, इसके लिए सरकार ने हजारों की संख्या में अतिरिक्त सुरक्षाबल को तैनात किया था।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story