कोरोना से जंग में भारत-पाकिस्तान ऐसे आ सकते हैं साथ, शोएब अख्तर ने बताया

2008 के बाद से भारत ने पाकिस्तान  दौरा नहीं किया है। वहीं, पाकिस्तान ने वनडे और टी-20 सीरीज के लिए आखिरी बार 2012 में भारत का दौरा किया था।  इस दोनों देशों ने पिछले 8 साल से एक दूसरे के साथ कोई बाइलेटरल सीरीज नहीं खेली है।

Published by suman Published: April 8, 2020 | 9:31 pm

नई दिल्ली : 2008 के बाद से भारत ने पाकिस्तान  दौरा नहीं किया है। वहीं, पाकिस्तान ने वनडे और टी-20 सीरीज के लिए आखिरी बार 2012 में भारत का दौरा किया था।  इस दोनों देशों ने पिछले 8 साल से एक दूसरे के साथ कोई बाइलेटरल सीरीज नहीं खेली है।

क्रिकेट से हराए कोरोना

हालांकि आईसीसी टूर्नामेंट्स और एशिया कप में ये दोनों देश आमने-सामने होते रहे हैं।  बीसीसीआई पहले ही साफ कर चुका है कि जब तक भारत सरकार से कोई अनुमति नहीं मिलती पाकिस्तान से बाइलेटरल क्रिकेट सीरीज खेलनी मुश्किल है। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर भारत और पाकिस्तान के बीच एक बार फिर से बाइलेटरल क्रिकेट सीरीज होते देखना चाहते हैं।

यह पढ़ें….टैक्स देने वालों के लिये खुशखबरी, तुरंत रिफंड होंगे इतने लाख

शोएब ने इस्लामाबाद से कहा

पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भारत और पाकिस्तान में कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए धन जुटाने के मकसद से दोनों देशों के बीच तीन मैचों की वनडे क्रिकेट सीरीज आयोजित करने का प्रस्ताव रखा। पाकिस्तान स्थित एक आतंकवादी संगठन के द्वारा भारत पर 2008 में आतंकी हमले के बाद से दोनों देशों ने एक दूसरे के खिलाफ पूर्ण सीरीज नहीं खेली है।

 

दोनों का सामना आईसीसी टूर्नामेंटों और एशिया कप में हुआ शोएब ने इस्लामाबाद से कहा, ‘संकट के इस दौर में मैं दोनों देशों के बीच तीन मैचों की सीरीज का प्रस्ताव रखता हूं। पहली बार इस सीरीज का नतीजा कुछ भी निकले, दोनों देशों में से किसी के क्रिकेटप्रेमियों को दुख नहीं होगा।’ उन्होंने कहा, ‘विराट कोहली शतक जमाते हैं तो हम खुश होंगे. बाबर आजम शतक ठोकते हैं तो आप खुश होंगे। मैच का नतीजा जो भी निकले, दोनों टीमें विजयी होंगी।’

 

यह पढ़ें…कोरोना: UP में मास्‍क पहनना हुआ अनिवार्य, नहीं पहना तो होगी कड़ी कार्रवाई

मैच को बहुत दर्शक मिलें

शोएब ने कहा, ‘इस मैच को बहुत दर्शक मिलेंगे।  दोनों देश पहली बार एक दूसरे के लिए खेलेंगे। इससे जो भी पैसा मिले , वह कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए दोनों देशों में बराबर बांट दिया जाए।’ उन्होंने कहा, ‘भारत अगर हमें 10,000 वेंटिलेटर देता है तो पाकिस्तान इसे हमेशा याद रखेगा। हम तो सिर्फ मैचों की पेशकश कर सकते हैं. बाकी अधिकारियों को तय करना है।’ शोएब अख्तर ने कहा, ‘इससे दोनों देशों के राजनयिक संबंध भी सुधर सकते हैं।’ उन्होंने यह भी कहा कि संकट के इस दौर में दोनों देशों को एक दूसरे की मदद करनी चाहिए। पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद आफरीदी की चैरिटी की मदद का अनुरोध करने वाले भारतीय क्रिकेटरों युवराज सिंह और हरभजन सिंह की आलोचना के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘यह अमानवीय है। इस समय देश या मजहब की बात नही, इंसानियत की बात होनी चाहिए।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App