2014 में मोदी के सत्ता में आने के बाद से शेयर बाजार निवेशकों की पूंजी 75 लाख करोड़ रुपये बढ़ी

शेयर बाजार के 16 मई, 2014 से आज की तारीख तक के विश्लेषण से पता चलता है कि इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 60.89 प्रतिशत या 14,689.65 अंक चढ़ा है। बृहस्पतिवार को सुबह कारोबार के दौरान सेंसेक्स 40,124.96 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक पहुंचा था।

Published by Roshni Khan Published: May 23, 2019 | 6:33 pm
Modified: May 23, 2019 | 6:34 pm

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार के 2014 में सत्ता में आने के बाद देश के शेयर बाजार के निवेशकों की पूंजी 75.25 लाख करोड़ रुपये बढ़ी है। इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 61 प्रतिशत चढ़ा है।

ये भी देंखे:प्रकाश राज ने हार से बौखलाकर किया ट्वीट- ‘मोदी की जीत मेरे मुंह पर करारा तमाचा है’

शेयर बाजार के 16 मई, 2014 से आज की तारीख तक के विश्लेषण से पता चलता है कि इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 60.89 प्रतिशत या 14,689.65 अंक चढ़ा है। बृहस्पतिवार को सुबह कारोबार के दौरान सेंसेक्स 40,124.96 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर तक पहुंचा था।

16 मई, 2014 से 23 मई, 2019 के दौरान बंबई शेयर बाजार की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) 75 लाख करोड़ रुपये बढ़कर 150.25 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

ये भी देंखे:राहुल राजनीति के लिए उपयुक्त नहीं, कांग्रेस उन्हें दे शालीन सेवानिवृति : हिमंत विश्व शर्मा

बृहस्पतिवार को कारोबार बंद होने के समय बंबई शेयर बाजार की सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,50,25,175.49 करोड़ रुपये रहा।

(भाषा)