आम बजट से बिगड़ा बाजार का मूड, निवेशकों को लगा 3.60 लाख करोड़ का झटका

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे आम बजट ने बाजार को निराश किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव किया। साथ ही साथ ही कंपनियों पर डीडीटी (DDT) खत्म करने का भी ऐलान किया।

Published by suman Published: February 1, 2020 | 10:19 pm

मुंबई: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दूसरे आम बजट ने बाजार को निराश किया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2020-21 का बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव किया। साथ ही साथ ही कंपनियों पर डीडीटी (DDT) खत्म करने का भी ऐलान किया। इसकी घोषणा नहीं होने से बाजार का मूड बिगड़ गया जिसकी वजह से शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ बंद हुआ।  कारोबार के अंत में सेंसेक्स 988 अंक टूटकर 39,735.53 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 318 अंक लुढ़ककर 11,644 के स्तर पर क्लोज हुआ. बाजार में गिरावट से निवेशकों को 3.60 लाख करोड़ रुपये का झटका लगा।

 

यह पढ़ें…दिल्ली विधानसभा चुनाव: तीन फरवरी को PM मोदी करेंगे दिल्ली में चुनावी रैली

शेयर बाजार बजट 2020 से निराशा हाथ लगी है। सेंसेक्स 700 अंक तक गिर गया है। अभी सेंसेक्स 704 अंक की गिरावट के साथ 40,018 पर कारोबार कर रहा है। वहीं निफ्टी 243 अंक लुढ़ककर 11,792.10 पर कारोबार कर रहा है। दौरान शुरुआती झटके के बाद घरेलू शेयर बाजार संभल गये और सीमित दायरे में कारोबार कर रहे हैं। अभी सेंसेक्स 111 अंकों की गिरावट के साथ 40,612.02 और निफ्टी 112.55 पर कारोबार कर रहा है।

बीएसई का सेंसेक्स पिछले दिवस की तुलना में करीब 30 अंक की मजबूती के साथ 40,753.18 अंक पर खुला। हालांकि, बजट भाषण शुरू होती ही यह करीब 280 अंक गिरकर 40,444.48 अंक पर आ गया। बाद में इसने सुधार दर्ज की और गिरावट से उबरते हुए 44.31 अंक यानी 0.11 प्रतिशत की तेजी के साथ 40,767.80 अंक पर चल रहा था।

 

 

इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी शुरुआती गिरावट से उबरकर 12.25 अंक यानी 0.10 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,974.35 अंक पर चल रहा था।शुक्रवार को सेंसेक्स 40,723.49 अंक और निफ्टी 11,962.10 अंक पर बंद हुआ था। उल्लेखनीय है कि अर्थव्यवस्था में जारी सुस्ती को देखते हुए इस साल के आम बजट से निवेशकों तथा कारोबार जगत को काफी उम्मीदें हैं। निवेशकों को उम्मीद है कि इस बजट में आर्थिक वृद्धि को गति देने के अन्य उपायों की घोषणा हो सकती है।

 

यह पढ़ें…स्टडी इन इंडिया से होगा भारतीय उच्च शिक्षा का प्रसार- उप मुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा

 

बजट से पहले शेयर बाजार भारी गिरावट के साथ खुले। शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स में 174 और Nifty 63 अंकों का नुकसान देखने को मिला। बजट भाषण से ऐन पहले  बाजार में तेजी दिखी । सेंसेक्स 122.26 अंकों की तेजी के बाद 40,845.75 पर कारोबार करने लगा है। वहीं निफ्टी भी हरे निशान पर आ गया। बता दें  बजट की वजह से आज शेयर बाजार में शनिवार होने के बावजूद मार्केट खुला हुआ है। 2015 में भी बजट के दिन शनिवार होने के बावजूद बीएसई पर ट्रेडिंग हुई थी। सामान्य तौर पर शनिवार-रविवार को शेयर बाजार बंद रहता है।

एसकोर्ट सिक्योरिटी की रिसर्च रिपोर्ट्स के मुताबिक, आज के बजट में आयकर और शेयर बाजार से जुड़े बड़े ऐलानों की उम्मीद की जा रही है। सरकार निजी और विदेशी निवेश को बढ़ावा देने वाली घोषनाएं कर सकती है। देश की तिमाही जीडीपी ग्रोथ 6 साल के निचले स्तर पर है। सरकार ने सालाना ग्रोथ 5 फीसदी रहने का अनुमान जारी किया है। यह 11 साल में सबसे कम होगी.