Top

बॉलीवुड ड्रग्स केस: NCB के अधिकारियों से हुई बड़ी चूक, एक आरोपी को मिली जमानत

तय वक्त पर चार्जशीट दाखिल ना कर पाने के कारण एक अन्य ड्रग्स केस में आरोपी को कोर्ट से जमानत मिल गई। आरोपी को शनिवार को कोर्ट ने एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 28 Sep 2020 7:44 AM GMT

बॉलीवुड ड्रग्स केस: NCB के अधिकारियों से हुई बड़ी चूक, एक आरोपी को मिली जमानत
X
एनसीबी ने इस मामले में मार्च में धर-पकड़ की कार्रवाई थी और ड्रग्स की हजारों डोज़ पकड़ी थीं। ये कामयाबी एनसीबी को अंधेरी में छापेमारी के दौरान मिली थी।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में बॉलीवुड कनेक्शन की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो(NCB) इन दिनों अपने ताबड़तोड़ एक्शन के चलते चर्चा में है।

उसने इस केस की जांच में जितनी तेजी दिखाई और एक के बाद एक फ़िल्म जगत से जुड़े लोगों से पूछताछ शुरू की। उससे पूरा बॉलीवुड हिला हुआ है। सोशल मीडिया पर एनसीबी की जांच की खूब सराहना भी हो रही है लेकिन मुंबई में ही एक दूसरे केस की जांच को लेकर एनसीबी ने लोगों को निराश कर दिया है।

तय वक्त पर चार्जशीट दाखिल ना कर पाने के कारण एक ड्रग्स केस में आरोपी को कोर्ट से जमानत मिल गई। आरोपी को शनिवार को कोर्ट ने एक लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी।

Sushant सुशांत सिंह राजपूत की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ेंः कर्नाटक में भी NRC: मोदी विरोधी को भारत विरोधी बताने वाले तेजस्‍वी सूर्या की मांग

क्या है ये पूरा मामला

बताते चलें कि, मुंबई के अंधेरी के रहने वाले शिवम पीयूष को एक अन्य ड्रग्स केस में एनसीबी ने पकड़ा था। जिसके बाद उस पर NDPS एक्ट के तहत चार केस दर्ज हुए थे।

लेकिन एनसीबी तय समय पर आरोप पत्र फाइल नहीं कर पाई। जिसके बाद कोर्ट में सुनवाई करते हुए जज ने एक लाख रुपये के मुचलके पर आरोपी को जमानत दे दी।

इस पूरे प्रकरण पर शिवम के वकील एयाज खान ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि एनसीबी ने जो तर्क दिए उससे जज संतुष्ट नहीं हुए। कई बयान मेल नहीं खाते थे, एनसीबी ने अपने बयान में कहा कि कोरोना और दूसरे केसों में बिजी होने का हवाला दिया गया।

ये भी पढ़ेंः चोरी छिपे EX CM फडणवीस से मिलने होटल क्यों गये थे संजय राउत, खुल गया राज

Arrest जेल में बंद कैदी की फोटो(सोशल मीडिया)

मार्च में एनसीबी ने अंधेरी से पकड़ी थी ड्रग्स की हजारों डोज़

वकील ने ये भी बताया कि तीन केस में एनसीबी ने चार्जशीट दाखिल करने के लिए मोहलत मांगी थी जबकि चौथे केस में 180 दिन के बाद चार्जशीट दाखिल की थी। लेकिन हमने उससे पहले ही बेल की एप्लिकेशन दी थी। जिसके बाद हमारे क्लाइंट को जमानत मिल गई।

गौरतलब है कि एनसीबी ने इस मामले में मार्च में धर-पकड़ की कार्रवाई थी और ड्रग्स की हजारों डोज़ पकड़ी थीं। ये कामयाबी एनसीबी को अंधेरी में छापेमारी के दौरान मिली थी। जानकारी के मुताबिक, ये ड्रग्स यूके, सिंगापुर, आयरलैंड जैसे देशों से लाए जा रहे थे और वहां भी चोरी छिपे भेजे जा रहे थे।

ये भी पढ़ेंः महफूज रहेंगे राज कपूर-दिलीप कुमार के पैतृक घर, सरकार ने लिया बड़ा फैसला

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story