अब भारत आने से पहले सौ बार सोचेंगे ‘जमाती’, केंद्र सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

भारत में कोरोना वायरस का तेजी से प्रसार करने के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार अगर किसी को ठहराया जाता है, तो वो है तब्लीगी जमात।  इसे देखते हुए भारत में तब्लीगी जमात की गतिविधियों में शामिल 2500 विदेशी नागरिकों के भारत आने पर 10 साल के लिए बैन लगा दिया गया है।

नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस का तेजी से प्रसार करने के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार अगर किसी को ठहराया जाता है, तो वो है तब्लीगी जमात।  इसे देखते हुए भारत में तब्लीगी जमात की गतिविधियों में शामिल 2500 विदेशी नागरिकों के भारत आने पर 10 साल के लिए बैन लगा दिया गया है।

UP में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़कर हुई 410, 221 मरीज तबलीगी जमात से संबंधित

गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक इनमें से बहुत से विदेशी नागरिकों को पहले ही ब्लैकलिस्ट किया जा चुका है। ये सभी टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अप्रैल महीने में तब्लीगी जमात के 960 विदेशी नागरिकों को ब्लैक लिस्ट कर दिया था। साथ ही इनके वीजा को रद्द कर दिया गया था।

भारत  कोरोना वायरस संक्रमण के बीच दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के लोग बड़ी संख्या में जुटे थे। उनकी वजह से अन्य लोगों में भी कोरोना वायरस बहुत ज्यादा संख्या में फैल गया था।

तबलीगी जमात पर CBI का शिकंजा, शुरू की लेन-देन की जांच

गृह मंत्रालय ने ट्वीट कर पहले ही दे दी थी ये जानकारी

यहां आपको बता दें कि गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस व अन्य राज्यों की पुलिस से अपने-अपने क्षेत्र में रह रहे विदेशी नागरिकों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम व विदेशी नागरिक अधिनियम के तहत कार्रवाई करने को कहा था। गृह मंत्रालय ने ट्वीट कर इस कार्रवाई की जानकारी दी थी।

तब्लीगी जमात मरकज कोरोना वायरस का मुख्य केंद्र बन गया था। इस कारण से पूरे क्षेत्र को सील करना पड़ा था। जांच में पाया गया था कि 9000 से ज्यादा तब्लीगी जमात के भारतीय सदस्यों ने देश के 20 राज्यों में कोरोना संक्रमण फैला दिया था।

जिसके बाद दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए कार्यक्रम में हिस्सा लेने वालों में 1300 विदेशी नागरिकों की पहचान की गई थी। इनमें अमेरिका, फ्रांस और इटली के नागरिक शामिल थे। इनकी पहचान कर इन्हें क्वारंटीन में भेजा गया था।

असम में एक और कोरोना पॉजिटिव, तबलीगी जमात से जुड़ा था शख्स, कुल संक्रमित 30