Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

Teachers Day Special: ये संदेश भेजकर जतायें अपने प्रिय शिक्षक के प्रति आभार

गुरूर ब्रह्मा गुरूर विष्णु, गुरु देवो महेश्वरा, गुरु साक्षात परब्रह्म, तस्मै श्री गुरुवे नमः!! आप सभी को NewsTrack परिवार की तरफ से शिक्षक दिवस की ढेरों बधाई व शुभकामनायें।

Harsh Pandey

Harsh PandeyBy Harsh Pandey

Published on 5 Sep 2019 5:10 AM GMT

Teachers Day Special: ये संदेश भेजकर जतायें अपने प्रिय शिक्षक के प्रति आभार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: गुरूर ब्रह्मा गुरूर विष्णु, गुरु देवो महेश्वरा, गुरु साक्षात परब्रह्म, तस्मै श्री गुरुवे नमः!! कहते हैं काला रंग अशुभ होता है, लेकिन गुरू ने उसी ब्लैक बोर्ड से कई छात्रों की जिंदगी बदल देता है। आप सभी को NewsTrack परिवार की तरफ से शिक्षक दिवस की ढेरों बधाई व शुभकामनायें।

आज पूरे देश में शिक्षक दिवस मनाया जा रहा है। दरअसल, शिक्षक दिवस प्रतिवर्ष 5 सितंबर को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ॰ सर्वपल्ली राधाकृष्णन की स्मृति में मनाया जाता है।

बता दें कि डॉ॰ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म इसी दिन हुआ था। वो एक प्रकाण्ड विद्वान, शिक्षक, समाज सुधारक, जनप्रिय थे। साथ ही साथ उन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में काफी महत्वपूर्ण योगदान दिया था।

बताते चलें कि उनकी स्मृति में प्रतिबर्ष शिक्षकों के प्रति आभार और सम्मान व्यक्त करने के लिए शिक्षक दिवस मनाया जाता है। अगर आप भी इस अवसर पर अपने शिक्षकों को कोई संदेश देना चाहते है तो हम आपके लिए कुछ स्पेशल संदेश लाए हैं...

1. जो बनाए हमें इंसान

और दे सही-गलत की पहचान,

देश के उन निर्माताओं को

हम करें शत-शत प्रणाम!

शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

यह भी पढ़ें... मारी गई पाकिस्तानी सेना! इमरान को आज नहीं आएगी नींद

2. गुमनामी के अंधेरे में था

पहचान बना दिया

दुनिया के गम से मुझे

अनजान बना दिया

उनकी ऐसी कृपा हुई

गुरू ने मुझे एक अच्छा

इंसान बना दिया।

3. जीवन के हर अंधेरे में

रोशनी दिखाते हैं आप

बंद हो जाते हैं जब सारे दरवाजे

नया रास्ता दिखाते हैं आप

सिर्फ किताबी ज्ञान ही नहीं

जीवन जीना सिखाते हैं आप।

4. माता-गुरु हैं, पिता भी गुरु हैं

विद्यालय के अध्यापक भी गुरु हैं

जिससे भी कुछ सीखा है हमने

हमारे लिए हर वो शख्स गुरु है

हैप्पी टीचर्स डे सभी को।

5. दिया ज्ञान का भंडार मुझे

किया भविष्य के लिए तैयार मुझे

जो किया अपने उस उपकार के लिए

नहीं शब्द मेरे पास आभार के लिए!

शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

यह भी पढ़ें... अफवाह या हकीकत, भारत का चंद्रयान उठायेगा इस झूठ से पर्दा

6. देते हैं शिक्षा, शिक्षक हमारे नमक चरणो में गुरु तुम्हारे

बिना शिक्षा सूना जीवन है शिक्षित जीवन सदा नवजीवन है!

हैप्पी टीचर्स डे..

7. हमारा मार्गदर्शक बनने,

हमें प्रेरित करने और

हमें वो बनाने के लिए

जो कि हम आज हैं,

हे शिक्षक आपका धन्यवाद

Happy Teachers day

8. गुरू बिना ज्ञान कहां,

उसके ज्ञान का आदि न अंत यहां।

गुरू ने दी शिक्षा जहाँ,

उठी शिष्टाचार की मूरत वहां।

Happy Teachers day

9. शिक्षक मोमबत्ती की तरह होते हैं, वे खुद को जला कर हम विद्यार्थियों कि जिंदगी रौशन कर देते है।

10. एक अच्छी शिक्षा किसी को भी बदल सकती है, लेकिन एक अच्छा शिक्षक सब कुछ बदल सकता है।

11. शिक्षक के पास ही वह कला है जो मिट्टी को सोने में बदल सकती है।

12. शिक्षा सबसे शक्तिशाली हथियार है जिसका इस्तेमाल आप दुनिया को बदलने के लिए कर सकते है।

13. आपने जो त्याग किए हैं, उसके लिए आप सम्मान के हकदार हैं। आप मेरे लिए एक शिक्षक से बढ़कर हैं।

14. आज मैं आपको आपकी निस्वार्थ सेवा, समर्पण, कठिन परिश्रण और ज्ञान के लिए सेलिब्रेट कर रहा हूं। मुझे आपका छात्र बनने पर गर्व है। शिक्षक दिवस की शुभकामनाएं!

15 . देश और दुनिया के महान शिक्षकों द्वारा दिये अनमोल विचार...

डॉ. ए.पी.जे.अब्दुल कलाम... शिक्षण एक बहुत ही बढ़िया पेशा है जो एक व्यक्ति के चरित्र, क्षमता और भविष्य को संवारता है। अगर लोग मुझे एक अच्छे शिक्षक के रूप में याद करते हैं तो मेरे लिए यह सबसे बड़ा सम्मान होगा।

एस.राधाकृष्णन... अच्छे शिक्षक वे होते हैं जो हमें खुद के बारे में सोचना सिखाते हैं।

महात्मा गांधी... हर घर एक यूनिवर्सिटी है और पैरंट्स शिक्षक हैं।

मैगी गैलहर... दुनिया में जितने मुश्किल काम हैं, उनमें से एक मुश्किल काम अच्छा शिक्षक होना है।

कन्फ्यूशियस... एक अच्छा शिक्षक वह है जो अतीत को जिंदा रखता है और वर्तमान को अच्छे से समझता है।

डॉ॰ सर्वपल्ली राधाकृष्णन पर एक नजर...

डॉ॰ सर्वपल्ली राधाकृष्णन... (सितम्बर 1888 – 17 अप्रैल 1975) भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति (1952 - 1962) और द्वितीय राष्ट्रपति रहे। वे भारतीय संस्कृति के संवाहक, प्रख्यात शिक्षाविद, महान दार्शनिक और एक आस्थावान हिन्दू विचारक थे। उनके इन्हीं गुणों के कारण सन् 1954 में भारत सरकार ने उन्हें सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से अलंकृत किया था। उनका जन्मदिन (5 सितम्बर) भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Harsh Pandey

Harsh Pandey

Next Story