31 तक पूरा देश होगा बंद, इन नियमों के तहत होगा लॉकडाउन-04

इसमें राहत देने के सभी संभव प्रयास किये जाएंगे। इस दौरान अधिकांश दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों को खोलने की इजाजत दे दे जाएगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को भी इजाजत दे दी जाएगी। इस दौरान कंटेनमेंट जोन को सील कर दिया जाएगा ताकि आर्थिक गतिविधियां चलाई जा सकें।

नई दिल्लीः केंद्र सरकार ने अभी अभी लॉकडाउन-4 का एलान कर दिया। यह लॉकडाउन 14 दिन का होगा। लॉकडाउन-03 आज रात 12 बजे समापन हो रहा है। गृह मंत्रालय कुछ ही देर में लॉकडाउन-4 के लिए अपनी नई गाइडलाइन जारी कर देगा। लॉकडाउन के इस नये चरण में ऑटो रिक्शा, शॉपिंग मॉल और घरेलू उड़ानों की मंजूरी मिल जाने की संभावना है। हालांकि लॉकडाउन-3 के समापन होने से पहले ही तमिलनाडु, असम, महाराष्ट्र, तेलंगाना, मिजोरम और पंजाब ने लॉकडाउन का चौथा चरण अपने राज्यों में लागू कर दिया है।

उम्मीद की जा रही है कि लॉकडाउन के चौथे चरण में केंद्र सरकार संक्रमित क्षेत्रों में और अधिक सख्ती के लिए कदम उठाएगी वहीं करीब दो महीने बाद ग्रीन व औरेंज जोन में रहने वाले लोगों के लिए कुछ राहतों का एलान भी करेगी। लेकिन इन क्षेत्रों में भी बिना मास्क निकलने की इजाजत नहीं होगी और सोशल डिस्टेंसिंग पर सख्ती से अमल कराया जाएगा।

तमिलनाडु

तमिलनाडु 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान करने वाला नवीनतम राज्य है। इससे कुछ घंटे पहले महाराष्ट्र ने इससे मिलता जुलता एलान किया था। इस राज्य में चेन्नई सहित 12 जिलों में प्रतिबंधों में कोई ढील नहीं दी जाएगी। लॉकडाउन के तीसरे चरण की स्थिति यहां बरकरार रहेगी।

महाराष्ट्र

महाराष्ट्र सरकार ने भी 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान कर दिया है। मुख्य सचिव अजोय मेहता ने एक आदेश जारी कर कहा है कि चरणबद्ध राहत या लॉकडाउन उठाने की घोषणा हालात को देखते हुए की जाएगी। वर्ली कोलीवाडा आदर्शनगर और प्रभादेवी इलाके सील रहेंगे।

वर्तमान लॉकडाउन दो मई से आज रात 12 बजे तक प्रभावी था। लॉकडाउन-4 कल से 31 मई तक प्रभावी रहेगा। इन इलाकों में केवल आवश्यक सेवाओं के लिए अनुमति रहेगी। एक अधिकारी ने कहा है कि ग्रीन जोन में कुछ राहत दी जा सकती है।

तेलंगाना

तेलंगाना लॉकडाउन बढ़ाने का एलान करने वाला पहला राज्य था। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने जब राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन 17 मई तक लागू करने का एलान किया था उसी समय 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का एलान कर दिया था।

लॉकडाउन प्रतिबंधों के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में दुकानें खुली रहेंगी, शहरों में 50 फीसदी दुकानें खुली रहेंगी। निजी और सरकारी कार्यालयों को एक तिहाई स्टाफ के साथ काम करने की अनुमति रहेगी। जबकि रेड जोन में दुकानें बंद रहेंगी।

इन्हें भी पढ़ें

यहां कोरोना ने पुलिस पर मचाया तांडव, 24 घंटे में इतने पुलिसकर्मी पॉजिटिव

सावधानः रोगाणुनाशकों का छिड़काव नहीं बचाएगा कोरोना से, करना होगा ये काम

यूपी: यहां कोरोना से बाद में लेकिन इस पुरानी बीमारी से बड़ी संख्या में लोग तोड़ रहे दम

राज्य के सभी 33 जिलों में शाम सात बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा। लोगों को जरूरी सामानों की खरीदारी शाम छह बजे से पहले पूरी कर के घर लौट जाना होगा। अगर इसके बाद कोई बाहर मिलेगा तो पुलिस कार्रवाई करेगी।

गुजरात दिल्ली से मिले निर्देशों के अनुरूप लॉकडाउन का अनुसरण करेगा।

मिजोरम

मिजोरम ने भी 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। लॉकडाउन बढ़ाने का निर्णय एनजीओ, चर्चेज और डाक्टरों तथा राजनीतिक दलों के लोगों के साथ एक बैठक के बाद गुरुवार को लिया गया। मुख्यसचिव लालनुनमावी चुआंगो ने 17 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने कहा कि लॉकडाउन लोगों की सुरक्षा को ध्यान में ऱखकर बढ़ाया गया है।

पंजाब

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा है कि 18 मई की सुबह पंजाब में कर्फ्यू के उठने से होगी लेकिन लॉकडाउन 31 मई तक जारी रहेगा। हालांकि इसमें राहत देने के सभी संभव प्रयास किये जाएंगे। इस दौरान अधिकांश दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों को खोलने की इजाजत दे दे जाएगी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम को भी इजाजत दे दी जाएगी। इस दौरान कंटेनमेंट जोन को सील कर दिया जाएगा ताकि आर्थिक गतिविधियां चलाई जा सकें।