ऐसे बनते हैं आतंकी: पंजाब के DGP ने बताई कड़वी सच्चाई

Published by Ashiki Patel Published: February 22, 2020 | 3:01 pm

नई दिल्ली: पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने करतारपुर कॉरिडर को लेकर विवादित बयान दिया है। साथ ही उन्होंने बिना वीज़ा के करतारपुर में एंट्री को लेकर सवाल उठाए हैं। डीजीपी के मुताबिक पाकिस्तान में कुछ ऐसे लोग हैं जो श्रद्धालुओं को रिझाने की कोशिश कर रहे हैं और यही वजह है कि इतने सालों से इस कॉरिडोर को नहीं खोला जा रहा था।

शाम तक आतंकी बन कर वापस लौटता है…

पंचकुला में एक कार्यक्रम में बोलते हुए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा, ‘करतारपुर में ऐसी क्षमता है कि अगर आप किसी साधारण शख्स को भी सुबह भेजते हैं तो शाम तक वो ट्रेंड आतंकी के तौर पर लौटता है। आप वहां छह घंटे तक रहते हैं। आपको वहां फायरिंग रेंज तक ले जाया जा सकता है। आपको वहां IED बनाने के लिए सिखाया जा सकता है।’

Image result for kartatrpur karidor

जताई चिंता…

डीजीपी ने आगे कहा, ‘ये बड़ी वजह है कि इसे इतने सालों तक नहीं खोला गया। मैं इंटेलिजेंस ब्यूरो में 8 सालों तक था और इन चिज़ों को देखता था। हमलोग ये सोचते थे कि सुरक्षा को देखते हुए कॉरिडोर को खोलना बड़ी चुनौती होगी। लेकिन बाद में सिख समुदाय के लोग इसे खोलने की मांग करने लगे तो हमने उनका सपना पूरा किया। लिहाजा़ सुरक्षा चिंताओं को हमने ठंढ़े बस्ते में डाल दिया।’

Image result for atanki

ये भी पढ़ें: Dada Saheb Phalke Awards 2020: बड़े और छोटे पर्दे के इन सितारों ने मारी बाजी

डीजीपी गुप्ता ने कहा कि वो पिछले हफ्ते इस मुद्दे पर चर्चा में भाग लेने के वे लिए दिल्ली गए थे। उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान के लोग यहां से जाने वाले लोगों को रिझाने की कोशिश कर रहे हैं। हमलोग मोबाइल फोन को लेकर परेशान हैं जो यहां के लोग वहां लेकर जाते हैं। पहले बैसाखी और गुरू पर्व पर ही श्रद्धालुओं का जत्था वहां जाता था। लेकिन अब बड़ी संख्या में लोग वहां जा रहे हैं। सुरक्षा को लेकर ये चिंता की बात है।’

गौरतलब है कि करतारपुर कोरिडोर को पिछले साल 9 नंवबर को खोला गया था। भारत की तरफ पड़ने वाले हिस्से का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी ने किया था। वहीँ दूसरी तरफ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इसका उद्घाटन किया था।

ये भी पढ़ें: गांधीजी का प्यार थीं ये महिला: बचपन में हुईं जुदा, फिर भी मरते दम तक दिया साथ

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App