वीजा खत्म हुआ तो कॉलगर्ल बनीं युवतियां, पुलिस ने पकड़ा तो हुआ ये बड़ा खुलासा

ये दोनों टूरिस्ट वीजा पर उज्बेकिस्तान से भारत आईं थीं। दोनों के वीजा की अवधि 2018 में ही समाप्त हो जाने के बाद भी भारत में रुकी हुईं थी।

भोपाल : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस ने बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। जिसमे 3 विदेशी युवतियों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

भोपाल की क्राइम ब्रांच पुलिस ने तीन विदेशी युवतियों और उनके साथ रंगरेलियां मना रहे युवकों को गिरफ्तार किया है। युवाओं के पास से शराब की बोतलें, नशे की गोलियां और आपत्तिजनक सामग्रियां भी जब्त की हैं।

ये भी पढ़ें…पत्नी ने च्युइंगम खाने से किया इनकार, पति ने दे दिया तलाक, मुकदमा दर्ज

आश्चर्य की बात यह है कि पुलिस ने जिन विदेशी युवतियों को पकड़ा है वे टूरिस्ट वीजा खत्म होने के बाद भी अपने देश वापस नहीं गईं।

दरअसल, क्राइम ब्रांच ने बीडीए कॉलोनी के कोहेफिजा फ्लैट में मंगलवार की रात छापा मारा। यहां तीन विदेशी युवतियों के साथ सुयोग और कपिल नाम के युवाओं के साथ इस रैकेट के दलाल जॉन मसीह को गिरफ्तार किया।

जॉन मसीह ही वह शख्स है जो इस सैक्स रैकेट को चलवाता है। वहीं दूसरी ओर पकड़ी गई युवतियों में एक नेपाल की है। जबकि दो उज्बेकिस्तान की हैं।

ये भी पढ़ें…देखें तस्वीरें, SP कार्यकर्ताओं ने बढ़ती हुई महंगाई,हत्या और लूट के विरोध में कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया

2018 में ही वीजा हो गया था समाप्त

ये दोनों टूरिस्ट वीजा पर उज्बेकिस्तान से भारत आईं थीं। दोनों के वीजा की अवधि 2018 में ही समाप्त हो जाने के बाद भी भारत में रुकी हुईं थी।

इतना ही नहीं एक ने तो वीजा एक्सटेंड न करने पर एंबेसी में 400 डॉलर की पेनाल्टी भी भर दी है और उसकी आगरा के युवक से शादी भी होने वाली थी। पुलिस ने सभी आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।

पुलिस ने बताया कि पासपोर्ट पर कॉलगर्ल्स के असली नाम दर्ज हैं, लेकिन वोटर आईडी पर गलत नाम दर्ज है। जबकि दोनों की तस्वीरें असली लगी हुई हैं। पुलिस का कहना है कि मामले की जांच शुरू हो गई है।

ये भी पढ़ें…दूध का पैकेट करो इकट्ठा! होगा बंपर फायदा, जल्दी-जल्दी शुरू करें ये काम