Top

अर्नब पर बड़ी खबर: अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, सीबीआई जांच की मांग

सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और इंदिरा बनर्जी की खंडपीठ में बुधवार को सुबह लगभग 11 बजे सुनवाई शुरू हुई है। अर्नब गोस्वामी और उनके साथ दो अन्य आरोपित फिरोज शेख व नीतीश सारदा की ओर सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका मंगलवार को ही दाखिल की गई है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 11 Nov 2020 6:57 AM GMT

अर्नब पर बड़ी खबर: अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, सीबीआई जांच की मांग
X
अर्नब पर बड़ी खबर: अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, सीबीआई जांच की मांग
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। रिपब्लिक भारत टीवी के सीईओ व एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी की जमानत अर्जी पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई है। अर्नब गोस्वामी की ओर से अदालत से दरख्वास्त की गई है कि मामले की जांच सीबीआई से कराने का आदेश दिया जाए।

मंगलवार को जमानत याचिका हुई थी दाखिल

सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ और इंदिरा बनर्जी की खंडपीठ में बुधवार को सुबह लगभग 11 बजे सुनवाई शुरू हुई है। अर्नब गोस्वामी और उनके साथ दो अन्य आरोपित फिरोज शेख व नीतीश सारदा की ओर सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका मंगलवार को ही दाखिल की गई है। याचिका में अर्नब की ओर से पेश हुए सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे ने बांबे हाईकोर्ट से जमानत याचिका रद्द किए जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और सुप्रीम कोर्ट से इंसाफ की गुहार लगाई है।

arnab goswami- trp scandal-harish salwe

हरीश साल्वे ने अर्नब का पक्ष रखा

हरीश साल्वे ने अर्नब का पक्ष रखते हुए कोर्ट में कहा कि उनके मुवक्किल को सरकार की ओर से निशाना बनाया जा रहा है। केस खोलने के लिए कानून का सही से पालन नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से दो साल पुराने मामले की जांच दोबारा शुरू कराई गई है वह साफ बता रहा है कि यह किसी बड़ी साजिश का हिस्सा है। आपराधिक मामले की जांच शुरू करने के लिए प्रक्रिया का पालन नहीं किया गया है।

ये भी देखें: बिछ गईं लाशें ही लाशें: मिनटों में भरभरा कर गिरी फैक्ट्री, कांप उठा पूरा देश

टीआरपी स्कैंडल

सुनवाई के दौरान हरीश साल्वे ने हंसा रिसर्च ग्रुप की ओर से हाईकोर्ट में दाखिल की गई याचिका का भी जिक्र किया और कहा कि टीआरपी स्कैंडल मामले को भी इससे जोडक़र देखना चाहिए। सरकार के इशारे पर मुंबई पुलिस उनके मुवक्किल का लगातार उत्पीडऩ करने की कोशिश की कर रही है। इस बात को आसानी से समझा जा सकता है कि वह लोग क्या करने की कोशिश कर रहे हैं और उनका निशाना क्या है।

arnab goswami- trp scandal

महाराष्ट्र में आपातकाल की स्थिति

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में आपातकाल की स्थिति है। वहां नागरिक अधिकारों का हनन किया जा रहा है। कोर्ट से मिल रही जानकारी के अनुसार सुनवाई के दौरान जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा कि हमारा लोकतंत्र असाधारण रूप से लचीला है। सरकारों को इस सबको नजरअंदाज करना चाहिए। यह वह आधार नहीं है जिस पर चुनाव लड़ा जाता है। खबर लिखे जाने तक सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका पर सुनवाई जारी है।]

ये भी देखें: ओवैसी बनेंगे खतरा: इन पार्टियों का बिगाड़ेंगे खेल, अब यहां की तैयारी

रिपोर्ट- अखिलेश तिवारी

दो देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

Newstrack

Newstrack

Next Story