×

Uniform Civil Code News: कांग्रेस नेता ने किया समान नागरिक संहिता का समर्थन, पार्टी लाइन के खिलाफ दिया बयान, UCC पर गरमाई सियासत

Uniform Civil Code News: कांग्रेस नेता विक्रमादित्य सिंह का बयान सियासी नजरिए से इसलिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि पार्टी की ओर से इसका विरोध किया जा रहा है।

Anshuman Tiwari
Published on: 1 July 2023 4:54 AM GMT (Updated on: 1 July 2023 4:56 AM GMT)
Uniform Civil Code News: कांग्रेस नेता ने किया समान नागरिक संहिता का समर्थन, पार्टी लाइन के खिलाफ दिया बयान, UCC पर गरमाई सियासत
X
congress (photo: social media )

Uniform Civil Code Update: देश में इन दिनों समान नागरिक संहिता (UCC) के मुद्दे पर गरमाई सियासत के बीच हिमाचल प्रदेश के एक दिग्गज कांग्रेस नेता ने पार्टी लाइन के खिलाफ बड़ा बयान देकर सनसनी फैला दी है। हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के बेटे और राज्य के लोक निर्माण और खेल मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने देश में समान नागरिक संहिता का समर्थन किया है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि इस कानून को देश में लागू करने से कौन रोक रहा है? हालांकि उन्होंने इसके साथ ही भाजपा को इस मुद्दे पर प्रोपेगंडा न करने की नसीहत भी दी है।

कांग्रेस नेता विक्रमादित्य सिंह का बयान सियासी नजरिए से इसलिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि पार्टी की ओर से इसका विरोध किया जा रहा है। कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता इस मुद्दे पर मोदी सरकार को घेर चुके हैं मगर विक्रमादित्य सिंह ने इसके समर्थन में बयान जारी किया है। विपक्षी दलों में इस मुद्दे पर मतभेद बढ़ते दिख रहे हैं। आम आदमी पार्टी और शिवसेना के उद्धव गुट ने पहले ही समान नागरिक संहिता के समर्थन का ऐलान कर दिया है।

समान नागरिक संहिता का पूर्ण समर्थन

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह के बेटे और राज्य के वरिष्ठ मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने समान नागरिक संहिता के समर्थन में फेसबुक पोस्ट लिखी है। इस पोस्ट में उन्होंने लिखा कि देश में नौ साल से एनडीए की पूर्ण बहुमत वाली सरकार है। इस कानून को लागू करने से कौन रोक रहा है? चुनाव से कुछ महीने पहले ही इसका प्रोपेगेंडा क्यों हो रहा है? जयश्री राम।
कांग्रेस नेता विक्रमादित्य सिंह ने यह भी कहा कि समान नागरिक संहिता का हम पूर्ण समर्थन करते हैं जो कि भारत की एकता और अखंडता के लिए जरूरी है। लेकिन इस मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए। कांग्रेस नेता की इस पोस्ट से स्पष्ट है कि वे समान नागरिक संहिता के समर्थन में हैं। हालांकि उन्होंने भाजपा को इस मुद्दे पर सियासत न करने की नसीहत भी दी है।

कांग्रेस नेता का बयान पार्टी लाइन के खिलाफ

विक्रमादित्य सिंह का ताल्लुक हिमाचल प्रदेश के दिग्गज कांग्रेसी परिवार से है। उनके दिवंगत पिता वीरभद्र सिंह छह बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं जबकि मौजूदा समय में उनकी मां प्रतिभा सिंह हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष हैं। उनका बयान इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि उन्होंने पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयान दिया है।
कांग्रेस की ओर से समान नागरिक संहिता का विरोध किया गया है और पार्टी के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम समेत कई कांग्रेसी दिग्गज इस मुद्दे पर मोदी सरकार को घेर चुके हैं। अब विक्रमादित्य सिंह समान नागरिक संहिता का समर्थन करके कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ा दी हैं।

आप और उद्धव गुट भी यूसीसी के समर्थन में

वैसे इस मुद्दे पर विपक्ष में पहले ही मतभेद उभरते दिख रहे हैं। आम आदमी पार्टी के नेता संदीप पाठक ने पहले ही यूसीसी का सैद्धांतिक समर्थन करने का ऐलान कर दिया था। उनका कहना था कि हम सैद्धांतिक रूप से इसका समर्थन करते हैं मगर इसे लागू करने से पहले विभिन्न राजनीतिक दलों से व्यापक चर्चा की जानी चाहिए।

उधर महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के साथ महाविकास अघाड़ी गठबंधन में शामिल शिवसेना के उद्धव गुट ने भी समान नागरिक संहिता का समर्थन करने का फैसला किया है। दो प्रमुख विपक्षी दलों के इस रुख के कारण माना जा रहा है कि बेंगलुरु में होने वाली विपक्षी दलों की बैठक के दौरान इस मुद्दे पर चर्चा की जा सकती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों भोपाल में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए समान नागरिक संहिता की दमदार वकालत की थी। उनका कहना था कि जब दो कानून से घर नहीं चल सकता तो फिर देश कैसे चलेगा। उन्होंने आरोप लगाया था कि इस संवेदनशील मुद्दे पर विपक्षी दल देश के मुस्लिम समुदाय को बरगलाने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

Anshuman Tiwari

Anshuman Tiwari

Next Story