×

चीन पर बड़ा फैसला: भारत ने फिर दिया तगड़ा झटका, अब क्या करेगा ड्रैगन

पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर बीते कई दिनों से चल रहे तनातनी को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने अब कठोर कदम उठाएं हैं। भारत ने चीन के खिलाफ आर्थिक मोर्चे पर पहल करना शुरू कर दिया है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 1 July 2020 11:28 AM GMT

चीन पर बड़ा फैसला: भारत ने फिर दिया तगड़ा झटका, अब क्या करेगा ड्रैगन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर बीते कई दिनों से चल रहे तनातनी को लेकर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने अब कठोर कदम उठाएं हैं। भारत ने चीन के खिलाफ आर्थिक मोर्चे पर पहल करना शुरू कर दिया है। बीते दिन भारत ने चीन की 59 एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया, और अब आज यानी बुधवार को केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने चीन को लेकर बड़ा ऐलान किया।

ये भी पढ़ें... सीएम योगी विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के द्वितीय चरण का किया शुभारम्भ, देखें तस्वीरें

राजमार्ग परियोजनाओं में

मंगलवार को चीन की 59 मोबाइल एप्स पर रोक लगाने के बाद अब केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारत में अब चीनी कंपनियों को राजमार्ग परियोजनाओं में भाग लेने की इजाजत नहीं होगी और इस फैसले के तहत संयुक्त उद्यम के माध्यम से शामिल कंपनियां भी हिस्सा नहीं ले पाएंगी।

नितिन गडकरी ने कहा कि अगर वह किसी भारतीय या फिर अन्य कंपनी के साथ ज्वाइंट वेंचर बनाकर भी बोली लगाती है तो भी उन्हें अनुमति नहीं दी जाएगी।

ये भी पढ़ें...यूपी में Alert: 2 जुलाई तक भारी बारिश की चेतावनी जारी, रहें सावधान

आगे उन्होंने कहा कि भारत सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि चीनी निवेशकों को भारत के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSMEs) समेत अन्य क्षेत्रों में निवेश से रोका जा सके।

59 चीनी ऐप्स ब्लॉक

इसके साथ ही बता दें, चीन की सीमा बढ़ती मुस्तैदी और दोनों देशों के बीच तनातनी के चलते भारत ने TikTok और हेलो समेत 59 चीनी ऐप्स ब्लॉक कर दिए हैं।

ऐसे में मंत्रालय ने एक नोटिस जारी कर बताया कि ये 59 चीनी ऐप्स उन गतिविधियों में लगे हुए थे जो भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा हैं। ऐसे में इन ऐप्स पर रोक लगा दी गई है।

ये भी पढ़ें...20,000 सैनिक उतरे: चीन बढ़ा युद्ध की तरफ, भारत मौर्चा संभालने को तैयार

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story