Top

खुदाई में मिला 1 हजार साल पुराना मंदिर, देखने के लिए दौड़ी लोगों की भीड़

ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर के समीप खुदाई में एक हजार साल पुराना मंदिर मिला है। मंदिर की दीवारों और पत्थरों पर बाकायदा नक्काशी की हुई है। सूचना मिलते ही पुरातत्व विभाग सहित कई विभागों के अधिकारी मौके पर पहुंच गए।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 19 Dec 2020 1:33 PM GMT

खुदाई में मिला 1 हजार साल पुराना मंदिर, देखने के लिए दौड़ी लोगों की भीड़
X
उज्जैन: खुदाई में मिला 1 हजार साल पुराना मंदिर, परमार कालीन होने का अनुमान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उज्जैन: विश्व प्रसिद्ध और मध्य प्रदेश के सबसे बड़े मंदिर महाकाल मंदिर का पिछले एक साल से विस्तारीकरण चल रहा है, जिसका काम अचानक रोक दिया गया। दरअसल यहां ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर के समीप खुदाई में एक हजार साल पुराना मंदिर मिला है। मंदिर की दीवारों और पत्थरों पर बाकायदा नक्काशी की हुई है। सूचना मिलते ही पुरातत्व विभाग सहित कई विभागों के अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए।

ये भी पढ़ें: नहीं रहा RSS का नायक: शोक में डूबा पूरा देश, दुखी हुए सभी दिग्गज नेता

दरअसल, गुरुवार से शुरू हुई खुदाई के दौरान सती माता मंदिर के पीछे पत्थर की शिलाएं दिखाई दीं, जिसके बाद काम रोक दिया गया। शुक्रवार सुबह शिलाओं के आसपास सावधानी से खुदाई की गई तो मंदिर का स्ट्रक्चर दिखाई देने लगा। मौके पर मंदिर के शिखर वाले हिस्से दिखाई दे रहे हैं। हालांकि अभी आसपास खुदाई नहीं की गई है।

Photo- Social Media

इस मामले में पुरातत्व विभाग के अधिकारी ने बताया कि महाकाल मंदिर के विस्तारीकरण के लिए स्मार्ट सिटी द्वारा खुदाई की जा रही है। इस दौरान कुछ महत्वपूर्व अवशेष निकले हैं। उन्होंने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है जब इस तरह के अवशेष हमें मिले हैं।

इल्तुतमिश के आक्रमण के समय के साक्ष्य

पुराविदों ने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है कि खुदाई के दौरान यहां 1000 वर्ष पुराना मंदिर मिला है। उन्होंने बताया जब हम इसकी पूरी खुदाई कर लेंगे तब हुमी मंदिर का आकार मिलने की संभावना है। उन्होंने बताया कि ये सारे साक्ष्य इल्तुतमिश के आक्रमण के समय के दिखाई दे रहे हैं। मंदिर को तोड़कर उस पर भराव करने के साक्ष्य स्पष्ट देखे जा सकते हैं। यह मंदिर परमार शासन काल का है, जो 1000 साल पुराना है।

Photo- Social Media

एक साल से चल रहा है सौंदर्यीकरण का काम

बता दें कि 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर का विस्तारीकरण का काम पिछले 1 साल से लगातार जारी है। यहां सर्व सुविधा युक्त पार्किंग, शौचालय सहित कई सौंदर्यीकरण किये जाने हैं। यहां कॉम्पलेक्स सहित बहुत कुछ बनाया जाना है। आज भी महाकाल मंदिर के मुख्य द्वार पर ही खुदाई चल रही थी, जिसे रोक दिया गया।

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस को लेकर सीएम केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को दी बड़ी खुशखबरी

Newstrack

Newstrack

Next Story