Live: विशाखापट्टनम गैस कांड: 11 लोगों की मौत, CM जगन ने किया मुआवजे का एलान

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक फार्मा कंपनी में गैस लीक हो गई है जिसके बाद हाहाकार मच गया है। गैस लीक होने से एक बच्चा समेत 11 लोगों की मौत हो गई है, तो वहीं 5000 लोग बीमार हैं।

नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक फार्मा कंपनी में गैस लीक हो गई है जिसके बाद हाहाकार मच गया है। गैस लीक होने से एक बच्चा समेत 10लोगों की मौत हो गई है, तो वहीं 5000 लोग बीमार हैं। इसके बाद पूरे शहर में अफरा तफरी मच गई है और अभी भी हालत नियंत्रण में नहीं है। स्थानीय प्रशासन और भारतीय नौसेना ने फैक्ट्री के पास के गांवों को खाली करा लिया है।

गैस रिसाव के चलते प्लांट के 3 किमी के दायरे तक लोगों में दहशत फैली गई है। कई लोग सड़क पर ही बेहोश पड़े हुए हैं जबकि कइयों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। लोगों ने आंखों में जलन और स्किन में रैशेज की शिकायत भी की।

फिलहाल पांच गांवों को खाली करा लिया गया है। सैकड़ों लोग सिर दर्द, उल्टी और सांस लेने में तकलीफ हो रही है इसके बाद लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। लेकिन गैस लीकेज की असली वजह का अभी पता नहीं चल पाया है।

LIVE Updates…

सीएम जगन मोहन रेड्डी ने किया मुआवजे का एलान

सीएम जगन मोहन रेड्डी ने खुद विशाखापट्टनम पहुंचकर घटना की जानकारी ली उसके बाद मुआवजे का एलान किया।

1500 घरों को खाली कराया गया:जीवीएमसी आयुक्त

जीवीएमसी आयुक्त ने कहा कि प्रभावित क्षेत्र से कुल 1500 घरों को खाली कराया गया है। 180 पीड़ितों का इलाज केजीएच विशाखापट्टनम में चल रहा है, जबकि 40 पीड़ित अपोलो अस्पताल में हैं। इनमें 3 गंभीर हालत में हैं।

आंध्र प्रदेश के डीजीपी दामोदर गौतम सवांग ने कहा कि अभी गैस को नियंत्रित कर लिया गया है। एंटीडोट के तौर पर खूब पानी पियें। लगभग 800 लोगों को अस्पताल में भेजा गया, कई को छुट्टी दे दी गई। यह कैसे हुआ इसके लिए जांच की जाएगी।

प्रधान ने बताया कि यह स्टाइरीन गैस है जो केंद्रीय तंत्रिका तंत्र, गले, त्वचा, आंखों और शरीर के कुछ अन्य अंगों को प्रभावित करती है। उन्होंने कहा, ‘हमें लगता है कि प्लास्टिक की इस फैक्ट्री में काम-काज फिर से आरंभ किया जा रहा था और किसी दुर्घटना के बाद गैस का रिसाव हुआ।’

आंध्र प्रदेश में जहरीली गैस लीक, ऐसा भयानक मंजर, सड़क पर ही गिरने लगे लोग

 गैस का रिसाव होने के कारण 80 से 100 लोगों को अस्पतालों में कराया गया भर्ती:एनडीआरएफ

एनडीआरएफ महानिदेशक एस एन प्रधान ने बताया कि देर रात करीब ढाई बजे स्टाइरीन गैस का इलाके में रिसाव होने के कारण 80 से 100 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है। उन्होंने कहा कि बल की एक विशेष टीम घटनास्थल पर पहुंच गई है और बेचैनी की शिकायत करने वाले लोगों की जांच कर रही है।

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) प्रमुख ने बृहस्पतिवार को बताया कि लॉकडाउन के दौरान विशाखापत्तनम में बंद पड़ी प्लास्टिक की एक फैक्ट्री में काम-काज पुन: शुरू करने की तैयारी हो रही थी कि इसी दौरान गैस रिसाव की घटना हुई।

पीएम मोदी ने दुख जताया

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में गैस लीक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। उन्होंने गृह मंत्रालय और एनडीएमए के अधिकारियों से बात की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए है और हर संभव मदद की कोशिश की जा रही है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने सबकी सुरक्षा और अच्छे सेहत की कामना की है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने इस हादसे से निपटने के लिए आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के साथ बैठक कर रहे हैं। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद हैं। इस हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत हुई है जबकि सैकड़ों अस्पताल में भर्ती हैं।  वहीं सीएम जगनमोहन रेड्डी 12 बजे घटनास्थल का दौरा करेंगे।

जहरीली गैस की चपेट में आकर मां-बेटों की मौत, सीवर की सफाई में हादसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी से भी बात की है। उन्होंने जनता को हरसंभव मदद और समर्थन देने का आश्वासन दिया है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि विशाखापट्टनम की घटना परेशान करने वाली है। एनडीएमए के अधिकारियों और संबंधित अधिकारियों से बात की है। हम स्थिति पर लगातार और बारीकी से नजर रख रहे हैं।

गोपालपटनम सर्कल इंस्पेक्टर रमनया ने बताया कि करीब 50 लोग सड़कों पर बेहोश पड़े हुए हैं और घटनास्थल पर पहुंचना मुश्किल होता जा रहा है। पुलिस लोगों से घर से बाहर आने और सुरक्षित जगहों पर जाने की अपील कर रही है।

उपराष्ट्रपति नायडू ने पेट्रोलियम मंत्री से की बात

उपराष्ट्रपति नायडू ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी से बात की है। उन्होंने आश्वासन दिया कि विजाग गैस रिसाव से प्रभावित लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक सहायता दी जा रही है।

आंध्र सरकार के संपर्क में गृह मंत्रालय

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि आज तड़के विशाखापत्तनम में एक निजी फर्म में गैस रिसाव के कारण मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। मैंने स्थिति का जायजा लेने के लिए आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी से बात की है। इसके साथ साथ ही एनडीआरएफ की टीमों को आवश्यक राहत प्रदान करने को निर्देश दिया है।

अस्पताल में भर्ती शीघ्र स्वस्थ हों: राहुल गांधी

राहुल गांधी ने इस घटना पर अफसोस जाहिर करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मदद की अपील की है। राहुल गांधी ने कहा कि मैं कांग्रेस कार्यकर्ताओं-नेताओं से अपील करता हूं कि वे प्रभावित लोगों को सभी जरूरी मदद करें। उन लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं, जो किसी अपने को खो चुके हैं। मैं प्रार्थना करता हूं कि अस्पताल में भर्ती शीघ्र स्वस्थ हों।

अखिलेश यादव ने दी श्रद्धांजलि

समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने लिखा है कि विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि व परिजनों के प्रति संवेदना। अन्य सभी प्रभावित लोगों के शीघ्र स्वास्थ्य-लाभ की कामना। आशा है स्थिति शीघ्रातिशीघ्र नियंत्रण में होगी।

यह मामला आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में के आरएस वेंकटपुरम का है। यहां पर एलजी पॉलिमर उद्योग में एक फार्मा कंपनी में रासायनिक गैस लीकेज हुआ है। मिली जानकारी के मुताबिक आरआर वेंकटपुरम में स्थित विशाखा एलजी पॉलिमर कंपनी से खतरनाक जहरीली गैस का रिसाव हो गया है। यह घटना गुरुवार सुबह हुई। इस जहरीली गैस की वजह से फैक्ट्री के तीन किलोमीटर के इलाके प्रभावित हैं।

अलीगढ़ः कुएं में फैली जहरीली गैस, बोरिंग करने गए मजदूर समेत 5 की हुई मौत

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App