Top

इन राज्यों में बारिश का अलर्ट: जमकर बरसेंगे बादल, 120 सालों में दूसरी बार हुआ ऐसा

मौसम विभाग ने कहा कि सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड समेत गिलगित, बाल्टिस्‍तान व मुजफ्फराबाद में बर्फबारी व बारिश हो सकती है। इससे मैदानी इलाकों के बढ़ते तापमान से थोड़ी राहत मिल सकती है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 1 March 2021 3:26 AM GMT

इन राज्यों में बारिश का अलर्ट: जमकर बरसेंगे बादल, 120 सालों में दूसरी बार हुआ ऐसा
X
देश के कई राज्यों में मौसम बदल रहा है। अब अधिकांश इलाकों में गर्मी की शुरुआत हो चुकी है और लगातार तापमान बढ़ रहा है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्‍ली: देश के कई राज्यों में मौसम बदल रहा है। अब अधिकांश इलाकों में गर्मी की शुरुआत हो चुकी है और लगातार तापमान बढ़ रहा है। घरों में अब लोगों को पंखा चलाने की जरूर पड़ रही है। लेकिन पहाड़ों पर बर्फबारी और बारिश की संभावना है।

मौसम विभाग ने कहा कि सोमवार को जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्‍तराखंड समेत गिलगित, बाल्टिस्‍तान व मुजफ्फराबाद में बर्फबारी व बारिश हो सकती है। इससे मैदानी इलाकों के बढ़ते तापमान से थोड़ी राहत मिल सकती है।

मौसम विभाग का कहना है कि पहाड़ी राज्‍यों में बारिश और बर्फबारी की वजह पश्चिमी विक्षोभ है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से मौसम बदल रहा है। मौसम विभाग के मुताबिक इस पश्चिमी विक्षोभ का असर 2 मार्च की रात से हिमालयी क्षेत्र में नजर आएगा। इसकी वजह से 3 और 4 मार्च को भी जम्‍मू कश्‍मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्‍तराखंड, लद्दाख और गिलगित, बाल्टिस्‍तान व मुजफ्फराबाद में बारिश व बर्फबारी हो सकती है।

ये भी पढ़ें...मोदी को टीका: पहला डोज लिया पीएम ने, वैक्सीनेशन का दूसरा फेज शुरू

Rainfall

दिल्ली, बिहार, झारखंड, ओडिशा और पश्चिमी मध्य प्रदेश में तापमान सामान्य से अधिक है। जम्‍मू कश्‍मीर के श्रीनगर में बारिश और ओले गिरे और बर्फबारी हुई। बारिश और बर्फबारी के कारण दिन का तापमान कई डिग्री सेल्सियस नीचे आ गया है। दिल्‍ली, यूपी, बिहार, मध्‍य प्रदेश, झारखंड के कई इलाकों में अभी से गर्मी जैसे हालात हो गए हैं।

मौसम विभाग ने कहा कि उत्तराखंड के कई जिलों में हल्की बारिश और बर्फबारी की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, सोमवार और मंगलार को मौसम और भी ज्यादा खराब रहने की संभावना है।

ये भी पढ़ें...अब यहां हुआ कोरोना विस्फोट, एक सोसाइटी में 20 से ज्यादा लोग मिले पॉजिटिव

120 साल में दसूरी बार हुआ ऐसा

इस साल फरवरी महीना, 120 सालों में दूसरी बार सबसे गर्म रहा। इस महीने का औसत तापमान 27.9 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने बताया कि यह 120 साल में दूसरा सबसे गर्म फरवरी रहा है। मौसम विभाग ने 1901 से लेकर अब तक के डेटा के आधार पर यह बताया है।

मौसम विभाग ने बताया कि फरवरी महीने में औसतन तापमान 27.9 डिग्री दर्ज किया गया। इससे पहले 1960 में भी फरवरी महीने का औसत तापमान 27.9 डिग्री सेल्सियस ही रहा था, जबकि 2006 में फरवरी का महीना 120 सालों में सबसे अधिक गर्म रहा था। इस महीने का औसत तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story