बंगाल में BJP की धमाकेदार जीत के बाद इनकी तलाश कर रही हैं ममता बनर्जी

पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन और बीजेपी की जीत के बाद अब राज्‍य की मुख्‍यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के अंदर के पार्टी के खिलाफ काम करने वालों की तलाश में लगी हैं।

file photo

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव में खराब प्रदर्शन और बीजेपी की जीत के बाद अब राज्‍य की मुख्‍यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) प्रमुख ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के अंदर के पार्टी के खिलाफ काम करने वालों की तलाश मंे लगी हैं।

एक मीडिया रिपोर्ट में टीएमसी के एक सूत्र के हवाले से बताया गया है कि बीजेपी राज्‍य की अन्‍य 60 सीटों पर मात्र 4 हजार वोटों से हारी है जो उनकी पार्टी के लिए और ज्‍यादा चिंता की बात है। इसके अलावा कम से कम 192 ऐसे विधानसभा क्षेत्रों की पहचान की गई है जो ‘अशांत जोन’ हैं। ये क्षेत्र ज्‍यादातर राज्‍य के नॉर्थ और पश्चिमी इलाके में हैं।

यह भी पढ़ें…यह हैं भारत की सबसे युवा सांसद चंद्राणी, इंजीनियरिंग कर ढूंढ रही थीं नौकरी

ममता बनर्जी ने अपने वरिष्‍ठ नेताओं को ब्‍लॉक लेवल पर ऐसे नेताओं की पहचान करने के लिए कहा है जिन्‍होंने सीपीएम से बीजेपी और कुछ मामलों में टीएमसी से बीजेपी को वोट ट्रांसफर कराने में मदद की।

मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि टीएमसी के आंतरिक सर्वे में निकलकर सामने आया है कि टीएमसी को जंगलमहल और नॉर्थ बंगाल में ‘गरीब लोगों के वोट’ नहीं मिले। इस इलाके में आदिवासी ज्‍यादा हैं।

यह भी पढ़ें…कोर्ट ने रॉबर्ट वाड्रा को जारी किया नोटिस, पूछा- क्यों नहीं रद्द की जाए जमानत

समीक्षा बैठक में शामिल टीएमसी के एक अन्‍य वरिष्‍ठ नेता ने कहा, ‘विकास कार्य चुनाव परिणामों में नहीं दिखाई दे रहे हैं। हमारे सभी वोटर अचानक देशभक्‍त बन गए।