Top

CM सोरेन को मिली जान से मारने की धमकी, प्रशासन में मचा हड़कंप, बढ़ाई गई सुरक्षा

मेल करने वाले शख्स ने 4 जनवरी को मुख्यमंत्री के काफिले पर हुए हमले का भी जिक्र किया है। इस मेल में डीजीपी द्वारा दिए गए बयान जिसमें हाथ पैर तोड़ने का जिक्र था। उसकी भी चर्चा की गई है। इसमें कहा गया है कि, सेवानिवृत्ति के बाद पता चलेगा कि, कौन कहां रहेगा।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 9 Feb 2021 6:04 PM GMT

CM सोरेन को मिली जान से मारने की धमकी, प्रशासन में मचा हड़कंप, बढ़ाई गई सुरक्षा
X
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को फिर से जान से मारने की धमकी मिली है। यह धमकी एक माह पहले 5 जनवरी 2021 को मेल में धमकी देते लिखा गया है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को फिर से जान से मारने की धमकी मिली है। यह धमकी एक माह पहले 5 जनवरी 2021 को मेल में धमकी देते लिखा गया है कि इस बार तो बच गए, लेकिन आगे नहीं बच पाओगे। इस संबंध में रांची में साइबर थाना में कांड संख्या 2/21 दर्ज किया गया है। यह मामला 5 जनवरी को सीएम की सुरक्षा में तैनात मोहम्मद तंजीम खान नामक दरोगा ने दर्ज कराया गया है।

मेल करने वाले शख्स ने 4 जनवरी को मुख्यमंत्री के काफिले पर हुए हमले का भी जिक्र किया है। इस मेल में डीजीपी द्वारा दिए गए बयान जिसमें हाथ पैर तोड़ने का जिक्र था। उसकी भी चर्चा की गई है। इसमें कहा गया है कि, सेवानिवृत्ति के बाद पता चलेगा कि, कौन कहां रहेगा।

धमकी के बाद प्रशासन की उड़ी नींद

रांची स्थित साइबर थाना की पुलिस मेल कहां से आया और इसका पता लगा रही है। साथ यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि मेल किस डोमेन या मोबाइल के द्वारा किया गया है।

ये भी पढ़ें...रघुवर दास का बड़ा हमला, कहा- झारखंड में गठबंधन नहीं ठगबंधन की सरकार

बता दें कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जुलाई 2020 में मेल द्वारा जान से मारने की धमकी दी गयी थी। झारखंड पुलिस स्विट्जरलैंड और जर्मनी से संपर्क में है और वहां से जांच रिपोर्ट मांगने की कोशिश कर रही है ताकि मेल करने वाले व्यक्ति तक पुलिस पहुंच सके।

ये भी पढ़ें...बिहार की सत्ता पर काबिज JDU झारखंड में तलाश रही राजनीतिक ज़मीन

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/WhatsApp-Video-2021-02-09-at-08.40.16.mp4"][/video]

झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने इस मामले को गंभीरता पूर्वक लेते हुए कहा है कि हम लोग अपना नेता की सुरक्षा को लेकर सतर्कता बरत रहे हैं और इसे लेकर हम लोग बराबर संपर्क में हैं।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/WhatsApp-Video-2021-02-09-at-08.38.39.mp4"][/video]

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भाभी और झामुमो की विधायक सीता सोरेन ने भी मामले को गंभीर बताते हुए उचित कार्रवाई की मांग की है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story