आसानी से बनाएं हेल्दी बेक्रफास्ट

 ये एक सुपाच्य और स्वादिष्ट नाश्ता है। आसानी से बन भी जाता है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले चूड़ा अच्छी तरह पानी से धो लें। एक कढ़ाही में तेल गर्म करें, फिर उसमें मूंगफली, कढ़ी पत्ते, सरसों, प्याज और पसंदीदा मसाले डालकर अच्छे से मिलाएं

लखनऊ: कहते हैं दिनभर भले हल्का खाएं, लेकिन सुबह का नाश्ता हेवी होना चाहिए और जरूर करना चाहिए। इससे तंदुरुस्ती बनी रहती है।

पोहा : ये एक सुपाच्य और स्वादिष्ट नाश्ता है। आसानी से बन भी जाता है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले चूड़ा अच्छी तरह पानी से धो लें। एक कढ़ाही में तेल गर्म करें, फिर उसमें मूंगफली, कढ़ी पत्ते, सरसों, प्याज और पसंदीदा मसाले डालकर अच्छे से मिलाएं और 10-15 मिनट तक पकाएं। इसके बाद कढ़ाही में पोहा डालकर अच्छे से मिलाएँ और 5 मिनट बाद गैस बंद करके प्लेट में डालें और उस पर भुजिया या नमकीन से ग्रनिश करके सर्व करें।

 

यह पढ़ें…अपने शरीर को नैचुरली रखें डिटॉक्स

 

फलों का सलाद : ये गर्मियों में सबसे उम्दा ब्रेकफास्ट है। अपनी मनपसंद के फलों से सलाद बना सकते हैं लेकिन उसमें ज्यादा से ज्यादा मौसमी फलों को शामिल करें। मौसमी फल जैसे आम, तरबूज और खरबूजा आदि तो आपके फलों के सलाद में जरूर शामिल होना चाहिए, क्योंकि गर्मियों में आने वाले फलों में कई पोषक गुणों समेत पानी की मात्रा भी भरपूर होती है। इससे आपका पाचन ठीक रहेगा और आप हाइड्रेट रहेंगे।

ओट्स : भले ही ये पश्चिम के देशों का आहार है लेकिन ओट्स सबसे पौष्टिक ब्रेकफास्ट विकल्पों में से एक है। इसे बनाने के लिए एक कटोरी दही, ओट्स, मुसली, सूरजमुखी के बीज, फ्लैक्‍स सीड्स और चिया सीड लें। इन सभी को एक बाउल में एक साथ डालकर अच्छे से मिला लें। उसके बाद ओट्स के इस मिश्रण पर ताजे मौसमी फल और अपने पसंदीदा सूखे मेवे गार्निश करें।

इस तरह से आपका हेल्दी और फिलिंग ब्रेकफास्ट तैयार हो जाएगा। इसके अलावा आप ओट्स की मीठी या नमकीन दलिया भी बना सकते हैं।

 

यह पढ़ें…न पैसे हैं- ना ही श्रमिक ट्रेन का मैसेज आया, इसलिए निकल पड़े मौत के सफर पर

 

सत्तू : ये गर्मियों का सबसे पौष्टिक ड्रिंक है, जिसका रोजाना एक गिलास सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी सबित हो सकता है। करना बस ये है कि एक गिलास पानी में सत्तू पाउडर घोलकर उसमें तनिक सा नमक और भुना जीरा पाउडर मिलाएँ। इसके अलावा आप मेवे से भी ग्रानिश कर सकते हैं। सत्तू में फाइबर की काफी मात्रा सम्मिलित होती है, जिस वजह से यह वजन को नियंत्रित और पाचन को रखता है।