बारिश में आए मच्छरों को इन घरेलू उपायों से भगाएं दूर ताकि बीमारी ना भटके पास

बारिश होने से गर्मी कम लगती है, लेकिन साथ ही मच्छरों का प्रकोप बढ़ जाता हैं। बारिश के दिनों में पानी ठहरने की वजह से मच्छरों की संख्या बढ़ने लगती हैं और बीमारियों का खतरा बढ़ता जाता हैं। ऐसे में जरूरी हैं कुछ ऐसे उपायों को अपनाया जो  बारिश के दिनों में मच्छरों से बचा सकते है

जयपुर:गर्मियों के मौसम में देश के कई इलाकों में बारिश की वजह से तापमान में कमी आई हैं और लोगों को थोड़ी राहत मिली हैं। बारिश होने से गर्मी कम लगती है, लेकिन साथ ही मच्छरों का प्रकोप बढ़ जाता हैं। बारिश के दिनों में पानी ठहरने की वजह से मच्छरों की संख्या बढ़ने लगती हैं और बीमारियों का खतरा बढ़ता जाता हैं। ऐसे में जरूरी हैं कुछ ऐसे उपायों को अपनाया जो  बारिश के दिनों में मच्छरों से बचा सकते है।

– नीम का तेल किसी भी रिपेलेंट से अधिक प्रभावी है। नीम के तेल में कपूर मिलाकर एक स्प्रे बॉटल में भर लें। अब इस मिश्रण का तेजपत्तों पर स्प्रे करें और जला लें। तेजपत्ते का धुंआ सेहत के लिए किसी भी प्रकार से हानिकारक नहीं है। इस धुंए के असर से आश्चर्यजनक रूप से मच्छरों का सफाया हो जाएगा।

चाणक्य की ये कुटनीतिज्ञ बातेें जो जीवन के हर मोड़ पर आ सकती हैं आपके काम

-एक कटोरे में थोड़ा सा पानी लेकर उसमें कपूर भिगो कर कमरे के कोने में रख दें। थोड़े ही समय में कपूर से उठने वाली गंध और धुआँ मच्छरों को दूर भागा सकता है। आप इसका कई दिनों तक मच्छरों को भगाने के लिए उपयोग कर सकतीं हैं, ऐसा करने के लिए आपको सिर्फ पानी ही बदलना होगा। कपूर कमरे में कपूर जला दें और 10 मिनट के लिए खिड़की और दरवाजों को बंद कर दें।

मच्छर भगाने के लिए नारियल तेल, नीम तेल, लौंग का तेल, पिपरमिंट तेल और नीलगिरी के तेल को आपस में समान मात्रा में मिलाएं और एक बॉटल में भरकर रख लें। रात में सोते समय त्वचा पर लगाएं और निश्चिंत होकर सो जाएं। बाजार की क्रीम से कई गुना ज्यादा फायदेमंद है यह उपाय। यह तेल आप घर से बाहर यात्रा के समय भी साथ लेकर जा सकते हैं।