Top

PM नरेंद्र मोदी की सुपारी: 'क्या अब बुआ-बबुआ मांगेंगे माफी?'

भाजपा ने मंगलवार को उस वीडियो क्लिप की विषयवस्तु को लेकर विपक्ष की ‘‘खामोशी’’ की आलोचना की है, जिसमें बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेजबहादुर यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या के बारे में कथित तौर पर बोल रहे हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 7 May 2019 12:09 PM GMT

PM नरेंद्र मोदी की सुपारी: क्या अब बुआ-बबुआ मांगेंगे माफी?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भाजपा ने मंगलवार को उस वीडियो क्लिप की विषयवस्तु को लेकर विपक्ष की ‘‘खामोशी’’ की आलोचना की है, जिसमें बीएसएफ के बर्खास्त जवान तेजबहादुर यादव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या के बारे में कथित तौर पर बोल रहे हैं। वाराणसी लोकसभा सीट से तेजबहादुर की उम्मीदवारी खारिज कर दी गयी थी।

एक संवाददाता सम्मेलन में भाजपा ने वीडियो क्लिप चलाई जिसमें यादव मोदी की हत्या के बारे में कथित तौर पर बोलते नजर आए। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वह हिज्बुल मुजाहिद्दीन और लश्कर ए तैयबा के आतंकियों को जानते हैं। समाजवादी पार्टी ने वाराणसी लोकसभा सीट से यादव को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ प्रत्याशी बनाया था।

यह भी पढ़ें...CRIME UPDATES: जानें कानपुर, बहराइच, एटा और मुजफरनगर की घटनाएँ

भाजपा के प्रवक्ता सांबित पात्रा ने कहा, ‘‘यह गंभीर मुद्दा है। यह प्रधानमंत्री की सुरक्षा के बारे में हैं। यह निर्वाचित प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश है। विपक्ष खामोश क्यों है?’’उन्होंने सवाल किया कि क्या विपक्ष तेज बहादुर यादव की कही बातों से सहमत है?

भाजपा प्रवक्ता ने सवाल किया कि क्या सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती वाराणसी में मोदी के खिलाफ गठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर उन्हें पेश करने के लिए माफी मांगेगे? उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर ‘‘प्रायोजित हमले’’ को लेकर हंगामा चलता रहा लेकिन मोदी पर खतरे को लेकर विपक्ष खामोश है।

यह भी पढ़ें...फोर्ब्स मैगजीन में टाॅप 9 पर, अब शिखा के नाम से जाना जायेगा सहारनपुर का नाम

पात्रा ने दावा किया कि प्रधानमंत्री पर तब भी हमले किए गए जबकि उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बारे ‘तथ्यों के साथ अपनी बात’ रखी थी। वीवीपैट पर उच्चतम न्यायालय द्वारा विपक्ष की पुनर्विचार याचिका खारिज किए जाने के बारे में एक सवाल पर उन्होंने कहा कि ईवीएम पर उनका हमला आम चुनाव में उनकी संभावित हार के लिए ‘अग्रिम जमानत’ लेने की कोशिश है।

पात्रा ने दावा किया कि भाजपा लोकसभा चुनाव में संसद की 543 सीटों में से 300 से ज्यादा सीटें जीतने वाली है।

भाषा

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story