×

Health : उम्र के साथ-साथ बढ़ता ब्लड प्रेशर लेवल

seema

seemaBy seema

Published on 22 Nov 2019 12:39 PM GMT

Health : उम्र के साथ-साथ बढ़ता ब्लड प्रेशर लेवल
X
Health : उम्र के साथ-साथ बढ़ता ब्लड प्रेशर लेवल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : उम्र बढऩे के साथ-साथ हमारे इम्यून सिस्टम में भी बदलाव होते हैं। 50 की उम्र पार करते ही शरीर के ब्लड प्रेशर लेवल का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। सामान्य तौर पर हमारे ब्लड प्रेशर को दो तरह से पढ़ा जाता है, सिस्टोलिक और डायस्टोलिक। सामान्य ब्लड प्रेशर का लेवल 120/80 मिमी. या 120 ओवर 80 होता है। अगर आपका सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर लेवल 140 से ज्यादा है, तो इसका मतलब है कि आप हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन के मरीज हैं।

यह भी पढ़ें : बहुत फायदेमंद: इसलिए ‘संडे हो या मंडे, रोज खाओ अंडे’

बढ़ती उम्र के साथ-साथ ब्लड प्रेशर का लेवल (सिस्टोलिक) भी बढ़ता जाता है। साथ ही डायस्टोलिक घटता जाता है। कई बार सामान्य मामलों में भी यह स्थिति देखी गई है। दवाइयों के इस्तेमाल के बावजूद सिस्टोलिक लेवल बढ़ जाता है। वैसे तो इसके कारण अभी तक पता नहीं चल पाए हैं, लेकिन माना जाता है कि उम्र के साथ-साथ शरीर में हार्मोन्स भी बदलते हैं और इसी वजह से शरीर का ब्लड प्रेशर लेवल भी प्रभावित होता है।

यह भी पढ़ें : हो जाएं सावधान: अगर फ्रिज में रखते हैं ये चीजें, पहुंच जाएंगे मौत के करीब

उम्र बढऩे के साथ नमक ज्यदा खाने की प्रवृत्ति देखी जाती है। यह आदत टेस्ट बड के कारण बढ़ती चली जाती है। धमनियों और अन्य रक्त वाहिकाओं में होने वाले परिवर्तनों के कारण हार्ट रेट में भी कमी देखी जाती है। बुजुर्गों को अगर हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी है, तो उन्हें समय-समय पर चेकअप कराते रहना चाहिए।

इस दौरान शरीर में होने वाले सभी बदलावों या जैसा आप महसूस कर रहे हों, को डॉक्टर को बताएं। खानपान का ध्यान रखें। हेल्दी डाइट लें, शराब-सिगरेट आदि से बचें। खाने में नमक का इस्तेमाल कम करें। रोजाना एक्सरसाइज करें। साथ ही डॉक्टर द्वारा बताई गईं दवाइयों का सेवन जरूर करें।

seema

seema

सीमा शर्मा लगभग ०६ वर्षों से डिजाइनिंग वर्क कर रही हैं। प्रिटिंग प्रेस में २ वर्ष का अनुभव। 'निष्पक्ष प्रतिदिनÓ हिन्दी दैनिक में दो साल पेज मेकिंग का कार्य किया। श्रीटाइम्स में साप्ताहिक मैगजीन में डिजाइन के पद पर दो साल तक कार्य किया। इसके अलावा जॉब वर्क का अनुभव है।

Next Story