हो जाएं सावधान: आपके पास भी है पालतू कुत्ता, तो जरूर पढ़ें ये खबर

अगर आप को भी कुत्ते पालने का शौक है तो आपके लिए यह खबर जरूरी है। कुत्ते को वफादार जानवरों में गिना जाता है, लेकिन जर्मनी से इसके उलट एक खबर आई है। यहां एक पालतू कुत्ता ही अपने मालिक की मौत की वजह बन गया।

नई दिल्ली: अगर आप को भी कुत्ते पालने का शौक है तो आपके लिए यह खबर जरूरी है। कुत्ते को वफादार जानवरों में गिना जाता है, लेकिन जर्मनी से इसके उलट एक खबर आई है। यहां एक पालतू कुत्ता ही अपने मालिक की मौत की वजह बन गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जर्मनी में एक 63 साल के व्यक्ति की मौत उसके कुत्ते के उसे प्यार से चाटने की वजह से हुई थी। रिपोर्ट के मुताबिक एक स्वस्थ 63 साल के व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और बाद में एक रहस्यमय बीमारी से उसकी मृत्यु हो गई।

यह भी पढ़ें…देवेंद्र फडणवीस ने दिया इस्तीफा, इस फैसले ने बदल दी महाराष्ट्र की सियासी तस्वीर

डॉक्टरों के मुताबिक व्यक्ति की मौत उसके पालतु कुत्ते की वजह से हुई है। इस व्यक्ति को अपने पालतू कुत्ते के साथ खेलने के तुरंत बाद बुखार और मांसपेशियों में दर्द समेत फ्लू जैसे लक्षण दिखाई दिए।

सांस लेने में कठिनाई, चेहरे पर फफोले और उनके निचले शरीर पर अजीब चोट जैसे लक्षणों के कारण उनकी स्थिति और अधिक बिगड़ गई।

यह भी पढ़ें…इस्तीफे के बाद फडणवीस का शिवसेना पर तीखा हमला, लगाए ये बड़े आरोप

अस्पताल में भर्ती होने और एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज करने के बावजूद, आदमी सेप्टिक सदमे में चला गया और उसे दिल का दौरा पड़ गया। उसके अंगों ने काम करना बंद कर दिया और उसकी मौत हो गई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक घरेलू बिल्लियों और कुत्तों की लार में एक प्रकार का बैक्टीरिया मिलता है जो इस व्यक्ति की मौत का कारण बना है। 16 दिनों के उपचार के बाद डॉक्टरों ने इस को लाइफ सपोर्ट सिस्टम से हटा दिया और उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र की सियासत में नया मोड़, अजित पवार ने डिप्टी CM पद से दिया इस्तीफा

डॉक्टरों के मुताबिक, ये व्यक्ति कैपनोसाइटोफेगा कैनिमोरस नाम के बैक्टीरिया से पीड़ित था। कैपोनोसाइटोफेगा नामक बैक्टीरिया पालतू जानवरों में आम हैं, और यह जानवर के लार के काटने, खरोंच या किसी भी संपर्क के माध्यम से फैल सकता है।